.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़ ने एक बार फिर गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल कायम की



दुर्लभ बीमारी से पीड़ित बच्चे के लिए जुमे की नमाज़ में दुआ मांगी गई

जामियातुर रशाद में सैकड़ों ने मासूम अनम्य सिंह की मदद के लिए हाथ बढ़ाया

आज़मगढ़: सुलतानपुर जिले का 8 माह का मासूम बच्चा अनम्य सिंह जो MSA नामक ऐसी बिमारी से पीड़ित है जो करोड़ों में एक को होती है और जिसका इलाज करोड़ो रूपये के खर्चे पर होगा। अनमय के उपचार के लिए तत्काल एक इंजेक्शन की ज़रूरत है जो अमेरिका से आना है और इसकी कीमत 16 करोड़ है। मासूम अनम्य की मदद के लिए कुछ जागरूक नागरिकों ने जब हाथ आगे बढ़ाया तो सोशल मीडिया के ज़रिए ये मुहिम प्रदेश भर में फैल गयी। धर्म और जाति के बंधन से ऊपर उठ कर हर वर्ग के लोग अनम्य की मदद के लिए आगे आने लगे हैं। इसी कड़ी में आज आज़मगढ़ शहर के जामियातुर रशाद जामा मस्जिद ने हिन्दू मुस्लिम एकता की नई मिसाल कायम कर दी, जहाँ आज शुक्रवार के मुबारक दिन जुमा की नमाज़ में हज़ारों नमाज़ियों ने अनमय की सेहत के लिए दुआ का हाथ उठाया तो वहीं नमाज़ बाद मदरसे के बच्चों ने ज़िम्मेदारों के साथ मिलकर अनमय के लिए मदद मांगी और अनमय कि मदद के लिए सैकड़ों हाथ आगे बढ़ गए। नमाज़ियों ने अनमय के लिए आर्थिक सहयोग भी दिया तो वहीं मदरसे के मासूम बच्चों ने भी अपनी जेब से 10-20 रुपये निकाल कर इस मुहिम में सहयोग किया।
इस अवसर पे जामियातुर रशाद मस्जिद के ईमाम मौलाना ओसामा नदवी ने कहाकि अनमय की मदद करना हर साहब ए हैसियत शख्स का अख़लाक़ी फ़र्ज़ और हम सब की ज़िम्मेदारी है और यही इस्लाम की भी सीख है कि मजबूर, मज़लूम, मरीज़ों की मदद और सेवा की जाए। असल इंसानियत यही है कि एक इंसान दूसरे इंसान के काम आए। अनमय बचाव मुहिम का नेतृत्व कर रहे समाजसेवी विनीत सिंह रिशु और तलहा रशादी ने कहाकि की आज़मगढ़ की धरती ने हमेशा हिन्दू मुस्लिम एकता और भाईचारा को बढ़ावा दिया है और आज जिस तरह से मदरसे के छात्रों और मस्जिद में आये नमाज़ियों ने अनमय बचाव मुहिम में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया और सहयोग किया, दुआएं की ये हमारी गंगा जमुनी तहजीब की शानदार मिसाल है। इस एकता और सहयोग से हमे विश्वास है कि हम सब अनमय के इलाज में अवश्य कामयाब होंगे और उसकी जान महफूज़ रहेगी। इस अवसर पर शाहिद, छात्र नेता सिमनान आदि लोग मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment