.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: गंगा-जमुनी संस्कृति को सुदृढ़ बनाएगा आजादी का अमृत महोत्सव


शिब्ली नेशनल कालेज में ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ पर हुई गोष्ठी

आजमगढ़: आजादी का अमृत महोत्सव के तहत शुक्रवार को शिब्ली नेशनल महाविद्यालय में ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ विषय पर गोष्ठी हुई। प्राचार्य प्रो. अफसर अली ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव गंगा-जमुनी संस्कृति को सुदृढ़ एवं समृद्धशाली बनाएगा। इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. अलाउद्दीन खान ने कहा कि अंग्रेजों को भारत से भगाने के लिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने भारत छोड़ो आंदोलन के रूप में आजादी की अपनी आखिरी लड़ाई लड़ने का ऐलान किया था। डा. वीके सिंह ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव प्रत्येक नागरिक के मन में राष्ट्रप्रेम की भावना को जागृत करेगा और स्वतंत्रता के प्रतीकों के प्रति सम्मान का भाव जगाएगा। चीफ प्राक्टर एहतेशामुउल हक ने कहा कि भारत छोड़ो आंदोलन ने अंग्रेजी हुकूमत की नींव हिलाने का काम किया था। प्रो. खालिद, प्रो. आजाद इस्लाही ,प्रो. शाहीन जाफरी, प्रो. जावेद अख्तर, कलीम अहमद, डा. सादिक, डा. खालिद शमीम, डा फहमीदा जैदी आदि थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment