.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: पुरानी परियोजनाएं हों पूरी, बंद हो जाति-धर्म के नाम पर उत्पीड़न



डीएम से मिला सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल,रखी मांगे

पंचायत स्तर के कार्यों का लोकार्पण कर वाहवाही लूट रहे हैं सीएम - हवलदार यादव

आजमगढ़ : सपा नेताओं ने शुक्रवार को जिलाधिकारी से मिलकर कई मामलों पर वार्ता की। कहा कि सपा के समय की पुरानी परियोजनाओं को पूरा कराया जाए और जाति-धर्म के नाम पर सपा नेताओं के हो रहे उत्पीड़न की कार्रवाई पर रोक लगाई जाए। जिले को सूखाग्रस्त घोषित करने के लिए शासन को रिपोर्ट भेजने की भी मांग उठाई।
जिलाधिकारी से मिलने के बाद पार्टी कार्यालय पर मीडिया कर्मियों से बातचीत में निवर्तमान अध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि सीएम के आगमन पर जनता ने उम्मीद जताई थी कि कुछ बड़ी घोषणा करेंगे जिससे वाराणसी और गोरखपुर की तरह से पहचान बने, लेकिन उन्होंने जिला और क्षेत्र पंचायत स्तर के कार्य का लोकार्पण व शिलान्यास कर वाहवाही लूटी। घर-घर तिरंगा फहराने की बात की जा रही है और सीएम के आगमन पर एक नाले के पास तिरंगा लगा दिया गया। ऐसा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। सीएम कलाकारों की बात करते हैं, लेकिन सपा सरकार के प्रोजेक्ट हरिऔध कला केंद्र का निर्माण पूरा करने के लिए बजट नहीं दे रहे।
सुरक्षा के नाम पर ठेला, गुमटी वालों को सड़क किनारे से हटाकर उनकी रोजी मारी गई। प्रदेश के निर्माण का अधिकांश बजट वाराणसी व गोरखपुर में खर्च हो रहा है, आजमगढ़ की उपेक्षा हो रही है। माहुल शराब कांड में विधायक रमाकांत का नाम आने के बारे में कहा कि अगर वह दोषी थे तो उसी समय कार्रवाई करनी चाहिए थी। पांच महीने बाद कार्रवाई सरकार के उत्पीड़न का प्रमाण है। डीएम से मिलने वालों में विधायक दुर्गा प्रसाद यादव, डा. संग्राम यादव, नफीस अहमद, पूजा सरोज, पूर्व मंत्री रामाश्रय विश्वकर्मा आदि शामिल थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment