.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: महाराष्ट्र में हत्या की घटना में शामिल दो अभियुक्त गिरफ्तार


यूपी एसटीएफ और रायगढ़ पुलिस की संयुक्त टीम ने पवई के खेमीपुर से पकड़ा

आजमगढ़: यूपी एसटीएफ और महाराष्ट्र के रायगढ़ पुलिस की संयुक्त टीम ने हत्‍या के अभियुक्‍त फरार चल रहे अमन सिंह व दिलीप शुक्ला को आजमगढ़ में गिरफ्तार किया।
अमन सिंह और दिलीप शुक्ला पुत्र प्रेमराज शुक्ला, खेमीपुर थाना पवई ने 28 जुलाई को हत्‍या कर फरार हो गए थे।
रायगढ़ के थाना नवीन पनवेल क्षेत्रान्तर्गत जंगल में बुरी तरह से जला हुआ एक शव मिला था। इस संबंध में थाना एफआइआर दर्ज कर जांच और तलाशी शुरू की गई। स्थानीय पुलिस की विवेचना से शव की शिनाख्त प्रवीण शान्ताराम सेलार के रूप में हुई थी। इस हत्याकाण्ड में नरेश के साथ-साथ अमन सिंह एवं दिलीप शुक्ला निवासी खेमीपुर थाना पवई जनपद आजमगढ़ के शामिल होने की बात प्रकाश में आई। रायगढ़ पुलिस द्वारा अभिसूचना को साझा करते हुए यूपी एसटीएफ ने पड़ताल शुरू की।
वाराणसी से उप निरीक्षक ज्ञानेन्द सिंह एवं उप निरीक्षक शहजादा खां के नेतृत्व में एसटीएफ टीम व रायगढ़ पुलिस टीम द्वारा जनपद आजमगढ़ में अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी। इस बीच सूचना के आधार पर शुक्रवार को अमन सिंह एवं दिलीप शुक्ला को जनपद आजमगढ़ के थाना पवई क्षेत्रान्तर्गत खेमीपुर से गिरफ्तार किया गया।
पूछताछ से पाया गया कि प्रवीण शान्ताराम सेलार की शादी नहीं हुई थी। प्रवीण शान्ताराम के परिचित नरेश ने शादी कराने के नाम पर 40 हजार रुपये लिये थे, परन्तु पैसा लेने के उपरान्त भी शादी न कराने पर प्रवीण शान्ता राम अपने 40 हजार रुपये वापस मांगने लगा। इस पर नरेश ने अपने साथ काम करने वाले अमन सिंह व दिलीप शुक्ला उपरोक्त से सम्पर्क किया और तीनों ने मिलकर प्रवीण शान्ताराम की हत्या करने की योजना बनायी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment