.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: जाने किस प्रत्याशी ने कितने मतों के अंतर से हासिल की जीत..


आजमगढ़ की दसो सीट पर जीत कर सपा ने रिकार्ड बनाया

जिले में सबसे अधिक मतों से निजामाबाद में आलमबदी जीते 

आजमगढ़: आजमगढ़ जनपद की सभी 10 विधानसभा सीटों पर समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों ने अपने निकटतम प्रत्याशियों को हराकर विजयश्री हासिल की। यहां सदर विधानसभा सीट पर नौवीं बार दुर्गा प्रसाद यादव ने 1 लाख 313 मत प्राप्त कर भारतीय जनता पार्टी के अखिलेश मिश्र गुड्डू को 84770 मतों के सापेक्ष 16036 मत से पराजित कर नौंवी बार जीत दर्ज कर इतिहास रचा। जबकि बसपा के सुशील सिंह को 39281 मत प्राप्त हुए।
इसी तरह निजामाबाद सीट पर समाजवादी पार्टी के सबसे उम्रदराज प्रत्याशी 85 वर्षीय आलम बदी आजमी ने चौथी बार 79022 वोट पाकर भाजपा के मनोज यादव को 33578 वोटों से पराजित किया। यहां मनोज यादव को 45444 एवं बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी डॉक्टर पीयूष सिंह यादव को 44426 मत प्राप्त हुए।
मुबारकपुर विधानसभा में अखिलेश यादव ने अंततः तीसरी बार में सफलता प्राप्त करते हुए उन्होंने 80726 वोट हासिल कर भारतीय जनता पार्टी के अरविंद जायसवाल को 29103 मतों से पराजित किया। अरविंद जायसवाल को 51623 मत एवं बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी अब्दुल सलाम को 48734 और असदुद्दीन ओवैसी के प्रत्याशी शाह आलम गुड्डू जमाली को 36460 मत प्राप्त हुए। ज्ञातव्य है कि गुड्डू जमाली यहां पिछले दो बार से बसपा के विधायक थे और अंतिम समय में उन्होंने बसपा छोड़ दिया था।
सगड़ी विधानसभा में समाजवादी पार्टी ने नये प्रत्याशी ह्दय नारायण पटेल को उतारा था और वह 22515 वोट से भाजपा प्रत्याशी को शिकस्त देने में कामयाब रहे। यहां पटेल को 83093 वोट मिले जबकि भाजपा की बन्दना सिंह को 60578 वोट प्राप्त हुए वहीं बसपा से प्रत्याशी शंकर यादव को 41006 वोट मिले। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि बंदना सिंह पूर्व में बहुजन समाज पार्टी से विधायक थीं किंतु उन्होंने चुनाव से पूर्व पार्टी बदल कर भाजपा ज्वाइन कर लिया था। जबकि शंकर यादव सपा से निकलकर बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़े थे।
लालगंज में समाजवादी पार्टी के बेचई सरोज 83087 वोट पाकर भाजपा की नीलम सोनकर को 14367 वर्षों से पराजित किया। नीलम सोनकर को 68720 मत प्राप्त हुए जबकि यहां से बसपा के विधायक रहे आजाद अरिमर्दन को तीसरे नंबर पर 57562 मतों से संतोष करना पड़ा।
गोपालपुर विधानसभा से समाजवादी पार्टी के नफीस अहमद ने लगातार दूसरी बार अपना झंडा फहराया। उन्होंने 24307 मतों से विजयश्री का वरण किया। नफीस को कुल 84401 मत प्राप्त हुए जबकि भाजपा के सत्येंद्र राय को 60094 मत के साथ दूसरे नंबर एवं बसपा के रमेशचंद यादव को 45211 मतों के साथ तीसरे नंबर पर संतोष करना पड़ा।
जनपद की बहुचर्चित सीट फूलपुर-पवई से समाजवादी पार्टी के रमाकांत यादव ने अपने चिर परिचित प्रतिद्वंदी भाजपा के रामसूरत राजभर को 25306 मतों से पराजित किया। यहां रमाकांत यादव को 81164, भाजपा के रामसूरत राजभर को 55558 एवं बहुजन समाज पार्टी के शकील अहमद को 49495 मत प्राप्त हुए। सबसे मजेदार बात यह है कि यहां पिछली बार रमाकांत यादव के पुत्र अरुणकांत यादव भाजपा से विधायक रहे। जब रमाकांत यादव को समाजवादी पार्टी ने यहां से टिकट दे दिया तो भाजपा ने अरुणकांत यादव का टिकट काट दिया। रमाकांत यादव तीन बार यहां से विधायक एवं चार बार आजमगढ़ सदर से सांसद रह चुके हैं।
दीदारगंज विधानसभा सीट पर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष सुखदेव राजभर के पुत्र कमलाकांत राजभर ने पहली बार में ही कामयाब होते हुए 13214 मतों से विजय प्राप्त किया। उन्हें 72877 वोट, भाजपा के डा. कृष्ण मुरारी विश्वकर्मा को 59911 वोट एवं बसपा से भूपेंद्र सिंह मुन्ना को 46882 वोट प्राप्त हुए।
अतरौलिया से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी डॉक्टर संग्राम यादव (91502) ने लगातार तीसरी बार विजय पताका फहराई उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी निषाद पार्टी जिसे भाजपा का समर्थन प्राप्त था के प्रशांत सिंह(74255) को 17247 मतों के अंतर से पराजित किया। यहां बहुजन समाज पार्टी के डॉक्टर सरोज पांडेय को तीसरे स्थान पर संतोष करना पड़ा।
इसी तरह मेंहनगर सुरक्षित सीट पर समाजवादी पार्टी ने पूजा सरोज को उतारा था और उन्होंने 86031 वोट हासिल कर भारतीय जनता पार्टी की मंजू सरोज को 14072 मतों से पराजित किया। यहां समाजवादी पार्टी ने 2017 में जीते अपने प्रत्याशी को टिकट न देकर पूजा सरोज पर विश्वास जताया था और वह सपा प्रमुख की उम्मीदों पर खरी उतरीं। ज्ञातव्य की पूजा सरोज समाजवादी पार्टी की पुरानी कार्यकर्ता भानुमति सरोज की बहू हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment