.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: सगड़ी से बंदना सिंह, फूलपुर-पवई से रामसूरत राजभर भाजपा प्रत्याशी 


जिले में भाजपा ने 09 तो सपा ने 07 और कांग्रेस 06 सीटों पर उतार चुकी है प्रत्याशी

आजमगढ़: जिले में बीजेपी के दो और टिकटों की घोषणा के साथ ही कुल नौ सीटों पर उम्मीदवारों के चेहरे सामने आ चुके हैं जबकि सपा अभी सात और कांग्रेस ने छह सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर चुकी है। भारतीय जनता पार्टी ने सगड़ी से बंदना सिंह को तो फूलपुर पवई से रामसूरत राजभर को विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी बनाया है। फूलपुर पवई से वर्तमान विधायक अरुणकांत यादव का टिकट पार्टी ने काट दिया है। दरअसल अरुणकांत के पिता रमाकांत यादव को इस बार सपा फूलपुर-पवई से मैदान में उतारा है। सपा के दांव के बाद से ही अरुण का टिकट कटने की आशंका प्रबल हो गई थी। उधर बंदना सिंह को टिकट मिलने से उनके समर्थकों में खुशी छा गई है। वर्ष 2017 के चुनाव में बंदना सिंह बीएसपी से चुनाव लड़कर जीती थीं। उन्होंने कुछ माह पूर्व ही बीजेपी ज्वाइन किया था। रामसूरत राजभर के लिए फूलपुर- पवई नया नहीं है। वे इससे पूर्व भी निषाद पार्टी के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ चुके हैं। दोनो सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा के साथ ही आजमगढ़ में चुनाव की तस्वीर करीब करीब क्लियर हो गई है। बीजेपी के दो टिकटों की घोषणा के साथ ही कुल नौ सीटों पर उम्मीदवारों के चेहरे सामने आ चुके हैं, जबकि सपा अभी सात और कांग्रेस ने छह सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर चुकी है। बीजेपी अब भी मुबारकपुर सीट पर उम्मीदवार के नाम को लेकर असमंजस में है। रामसूरत फूलपुर पवई विधानसभा क्षेत्र के मक्खापुर गांव निवासी हैं। वर्ष1999 में बीजेपी से आजमगढ़ सदर से लोकसभा चुनाव लड़कर 1 61 878 वोट पाए थे, उस समय सपा से रमाकांत सांसद चुने गए थे। एक बार फिर से दोनों फूलपुर पवई में आमने सामने होंगे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment