.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: तो एसपी ने पकड़ लिया लूट की घटनाओं को चोरी दर्ज करने का पैटर्न! ...


पूर्व की दर्ज चोरियों पर बैठा दी जांच,महकमे में मचा हड़कंप

घटनाओं को दबाने की बजाए रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस पलटवार करे- अनुराग आर्य

आजमगढ़: एक दिन पूर्व हुआ जहानागंज लूटकांड अपराधियों के साथ उनके मददगारों के गले की भी फांस बन सकता है। एक ही नेचर की पूर्व में हुई घटनाओं को चोरी में दर्ज किए जाने के मामले में फिर से जांच शुरू हो गई है। वारदात की इत्तला के बाद पहुंचे पुलिस कप्तान ने पुलिस की डायरी खंगाली तो मन में कई तरह की आशंकाएं उभर आईं। उन्होंने शक को सच्चाई के तराजू पर कसने के लिए पूर्व की घटनाओं में नए सिरे से जांच बैठा दी है।
जहानागंज थाना क्षेत्र के अभिलाषन-भुजही नहर मार्ग पर गुरुवार को बाइक सवार तीन बदमाशों ने तमंचे से भयभीत कर लूट की वारदात को अंजाम दिया था। मेंहनगर के रमदशपुर गांव निवासी राकेश कुमार यादव पुत्र झिंगरू यादव से गुरुवार को सोने की एक चेन, मोबाइल और पर्स में रखे तीन हजार रुपये लूटकर बदमाश भाग निकले थे। शातिर लुटेरे पीड़ित के बाइक की चाबी भी ले गए, जिससे उन तक पहुंचने के शुरुआती प्रयास में विलंब हो जाए। बहरहाल हुआ भी यही। सीओ सदर समेत जहानागंज थाने की पुलिस पहले मौके पर फिर बदमाशों के पीछे दौड़ पड़ी। पुलिस की तफ्तीश चल रही रही कि थी कि पुलिस अधीक्षक भी जा पहुंचे। पीड़ित राकेश की तहरीर पर तीन अज्ञात बदमाशों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हो गई। पूर्व की घटनाओं पर चर्चा शुरू हुई और दस्तावेज खंगाले गए तो एक ही पैटर्न की दो घटनाएं मिलीं। हालांकि, चोरी में दर्ज दोनों घटनाओं का पुलिस निराकरण भी कर चुकी है। एसपी अनुराग आर्य के आंकलन में दोनों घटनाएं एक ही नेचर का होने के कारण आशंकाएं उभरीं तो बंद पड़ी फाइलों की फिर से जांच शुरू करने का आदेश दे दिया। अब कप्तान के इस फरमान में कागजी घोड़े दौड़ाने वाले मातहत असहज हो गए हैं। इस पर एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि
जब तक असली अपराधी सलाखों के पीछे नहीं पहुंचेंगे, तब तक अपराध कम नहीं होगा। लूट हुई है तो रिपोर्ट दर्ज होनी चाहिए। जहानागंज में घटित घटना बहुत बड़ी नहीं थी, लेकिन उसके बावजूद मैंने उसे चुनौती के रूप में लिया है। थाने में फाइलों पर गौर फरमाया तो पता चला कि पूर्व में भी घटनाएं हुई थीं, लेकिन रिपोर्ट चोरी में दर्ज कर पुलिस ने कार्रवाई की है। उनकी नए सिरे से जांच करा रहा हूं। सच्चाई मेरी आशंका के अनुरूप निकली, तो जवाबदेही सबकी सुनिश्चित की जाएगी। एक आदेश दिया हूं, घटनाओं को दबाने की बजाए रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस बदमाशों पर पूरी ऊर्जा से पलटवार करे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment