.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: शांति एवं सद्भाव के साथ मनायें लोक आस्था का महापर्व छठ- डीएम


चिन्हित खतरनाक व फिसलन वाले घाटों से बचने को करें लोगों को जागरूक - डीएम

सभी नदी घाटों एवं गहरे तालाबों के पास हो गोताखोरों व नावों की व्यवस्था

आजमगढ़ 09 नवंबर-- लोक आस्था का महापर्व छठ को लेकर जिलाधिकारी राजेश कुमार ने कलेक्ट्रेट सभागार मे बैठक कर सभी एसडीओ, एसडीपीओ, ईओ नगर पालिका/नगर पंचायत के साथ बैठक कर निर्देश दिया कि आज हीं थाना स्तर पर सभी पंचायतों की पूजा समितियों एवं जन-प्रतिनिधियों के साथ बैठक करें । जिलाधिकारी के द्वारा पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि सभी छठ घाटों का चाहें वे नदियों के किनारे अवस्थित हैं या तालाब/पोखर के पास, घुम-घुम कर स्वयं निरीक्षण कर लें और संतुष्ट हो लें कि कौन से घाट छठ करने योग्य हैं। वैसे घाट जहाँ फिसलन अधिक है या किसी दूसरे कारण से योग्य नही है, उन्हें खतरनाक घोषित करें तथा इसकी सूचना तत्काल वहाँ के स्थानीय लोगों को माइकिंग करा कर बता दें एवं इस घाट पर खतरनाक घाट का फ्लैक्सी लगा दें। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी नदी घाटों सहित अधिक पानी वाले गहरे तालाबोें के पास दो शिफ्ट में गोताखोर की प्रतिनियुक्ति की जाय। प्रतिनियुक्त गोताखोर का मोबाइल नंबर सभी संबंधित पदाधिकारी अपने पास रखेंगे। सभी घाटों पर नावों की व्यवस्था रखने का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि घाटों तक जाने वाली सड़क का भी निरीक्षण कर लिया जाय एवं उसे ठीक करा दिया जाय। भीड़-भाड़ वाले घाटों पर पानी के अंदर बैरिकेटिंग करा दी जाय तथा वहाँ खतरे का लाल निशान लगा दिया जाय, ताकि छठ व्रति उसके आगे पानी में नही जायें। इन घाटों पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगाने का भी निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि सरकारी नावों को छोड़ कर नदियों में निजी नावों का परिचालन दिनांक 10 नवंबर 2021 से छठ पूजा की समाप्ति तक बंद रखा गया है। जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों एवं अंचलाधिकारियों को निर्देश दिया कि लोगों से बात करें और उन्हें नदी घाटों की जगह निकट के हीं छोटे तालाबों के पास छठ पर्व मनाने के लिए प्रेरित करें। लोग मास्क एवं सेनिटाइजर का उपयोग करें। जिलाधिकारी ने कहा कि रेलवे ट्रैक के पास स्थित घाटों पर विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता हैं तथा वहाँ पर भी पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति का निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन को सभी अस्पतालों को एलर्ट मोड में रखने तथा वहाँ चिकित्सकों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने का निदेश दिया। महापर्व छठ के अवसर पर आजमगढ शहर स्थित सभी घाटों का निरीक्षण कर लेने तथा घाटों सहित घाटों पर जाने वाले सभी सड़कों की साफ-सफाई कराने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि लोक आस्था का महापर्व छठ को देखते हुए शहरी क्षेत्र की साफ-सफाई के लिए विशेष व्यवस्था की जाय। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थेl

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment