.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: अब चौकी-थानों पर ही फरियादियों की समस्या का समाधान- अखिलेश कुमार


क्राइम कंट्रोल में चौकी प्रभारी तक की सुनिश्चित होगी जिम्मेदारी - नवागत डीआईजी

आजमगढ़ : नवागत पुलिस उप महानिरीक्षक अखिलेश कुमार ने कहा कि आपराधिक घटनाएं शत-प्रतिशत रजिस्टर्ड करना और उनका सही राजफाश करना हमारी प्राथमिकता होगी। ऐसी व्यवस्था होगी कि पुलिस चौकी व थानों में ही फरियादियों की समस्या का समाधान हो जाए। इसके अलावा महिला सुरक्षा एवं पुलिस की छवि बनाए रखने पर विशेष जोर रहेगा। पब्लिक कुछ दिनों में ही जमीन पर बदलाव महसूस करेगी। अपराध पर अंकुश को चौकी प्रभारी तक की जिम्मेदारी सुनिश्चित की जाएगी। सरकार भी समाज विरोधी गतिविधियों में लिप्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई पर जोर दे रही, ताकि समाज में भयमुक्त वातावरण बन सके। अखिलेश कुमार ने कार्यभार ग्रहण करने के बाद मीडिया से बातचीत में अपनी प्राथमिकताएं गिनाईं। उन्होंने कहा कि फरियादियों को मेरे यहां न आना पड़े, सिस्टम में ऐसी व्यवस्था की जाएगी। एक शिकायती पत्र पर गरीब के करीब दो हजार रुपये खर्च होते हैं, जबकि उसका प्रार्थना पत्र अंतत: जांच के लिए थानेदार व चौकी प्रभारी के पास ही जा पहुंचता है। ऐसे में फरियादी की समस्या पहले ही रिपोर्टिंग थाना-पुलिस चौकी पर हल कराने संग एनसीआर की मॉनिटरिंग गहराई से की जाएगी। कार्रवाई भी उसी के खिलाफ होनी चाहिए, जिसने उग्रता दिखाई है। कई बार दोनों पक्षों पर विधिक कार्रवाई किए जाने से पीड़ित का भरोसा पुलिस से उठ जाता है। चोरी की घटनाएं दर्ज हों, चौकी प्रभारी उसमें क्या कर रहे, इसकी जवाबदेही सुनिश्चित होगी, क्योंकि लूट की घटनाओं में सीधी मानीटरिग का प्रावधान है। माफियाओं के खिलाफ रत्ती भर नरमी नहीं बरती जाएगी। महिलाओं की सुरक्षा संबंधी प्रयासों को और मजबूत किया जाएगा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment