.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: धरना पड़ा भारी, एहसान खान समेत सौ पर मुकदमा दर्ज


गांव की महिला प्रधान समेत 20 नामजद व 80 अज्ञात पर केस
 

बिना अनुमति प्रदर्शन और महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा

आजमगढ़ : जिले के अहरौला थाना क्षेत्र के निजामपुर बाजार में मंगलवार को आजाद समाज पार्टी द्वारा किया गया धरना-प्रदर्शन भारी पड़ गया। देर शाम तक मान-मनौव्वल करने वाली पुलिस ने पार्टी के प्रवक्ता एहसान खान, ग्राम प्रधान स्नेहलता समेत सौ लोगों पर बिना अनुमति प्रदर्शन और महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। प्रशासन की कार्रवाई से प्रधान की मुश्किलें बढ़ गई हैं। गतिरोध गत 30 जुलाई की रात निर्माणाधीन पूर्वांचल एक्सप्रेस- वे की 12 टन सरिया चोरी से जुड़ा है। एक्सप्रेस-वे के प्रोजेक्ट मैनेजर शैलेंद्र शर्मा की शिकायत के बाद निजामपुर गांव में छापेमारी हुई तो विभिन्न घरों से आठ क्विंटल सरिया बरामद हुई। पुलिस ने ग्राम प्रधान स्नेहलता के पति ओमप्रकाश उर्फ फौजी सहित चार लोगों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। इसे मुद्दा बनाते हुए एहसान खान की अगुआई में भीम आर्मी के सैकड़ों लोगाें ने निजामपुर पहुंचकर धरना-प्रदर्शन किए थे। अहरौला पुलिस ने अनुमित न होने के कारण धरने को असंवैधानिक बताते हुए कार्रवाई की। पुलिस का कहना है कि जनसमूह ने कोविड गाइडलाइन का अनुपालन नहीं किया। चौकी प्रभारी माहुल विजय प्रकाश मौर्य ने 20 नामजद व 80 अज्ञात पर केस की पुष्टि की है। उधर एहसान खान ने कहाकि कि प्रशासन मुकदमे का डर पैदा कर हमें अपनी बात रखने से रोक नहीं सकता है। जिले भर में धरना-प्रदर्शन किया जाएगा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment