.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: स्वतंत्रता दिवस का तोहफा, अब जिले से भी दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेनें


सीआरएस स्पेशल ट्रेन ने 110 किमी प्रति घंटे की उच्चतम दूरी को छुआ

इलेक्ट्रिक ट्रेन ने आजमगढ़-मऊ की 43 किमी दूरी करे मात्र 33 मिनटों में तय की

आजमगढ़ : स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर जनपदवासियों को रेलवे ने इलेक्ट्रिक ट्रेनों का तोहफा दिया है। मऊ-आजमगढ़ 43 किमी दूरी को ट्रेन ने मात्र 33 मिनट में तय किया। पूर्वी परिक्षेत्र लखनऊ के रेल संरक्षा आयुक्त मोहम्मद लतीफ खान ने शनिवार को संरक्षा का परीक्षण किया। निरीक्षण के उपरांत अधिकतम गति से विद्युतीकृत लाइन पर विद्युत इंजन युक्त स्पेशल ट्रेन से रेल संरक्षा आयुक्त द्वारा गति परीक्षण सफल रहा। सीआरएस स्पेशल ने 110 किमी प्रति घंटे की उच्चतम गति को छुआ और आजमगढ़ से मऊ की दूरी मात्र 33 मिनटों में तय की। साथ ही अधिकारियों ने जनता को सलाह दी कि आज से इस खंड को विद्युतीकृत समझें और रेलवे ट्रैक तथा ओवर हेडलाइन से सुरक्षित दूरी बनाये रखें। निरीक्षण में पूर्वोत्तर रेलवे के प्रमुख विद्युत इंजीनियर एके शुक्ला, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (निर्माण) आरके यादव व मंडल रेल प्रबंधक वाराणसी रामाश्रय पांडेय समेत मुख्यालय, विद्युत निर्माण एवं मंडल के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। रेल संरक्षा आयुक्त मोहम्मद लतीफ खान ने मोहम्मदाबाद-आजमगढ़ रेल खंड का निरीक्षण किया और रेलवे लाइन से ओवरहेड की मानक दूरी और ओवर हेड लाइन का इंडेंट मापा। इसके पश्चात रेलवे ओवर ब्रिज का निरीक्षण किया और ओवरहेड लाइन से आरओबी का क्लियरेंस चेक किया। मऊ-आजमगढ़ रेल खंड पर निरीक्षण करते हुए रेल संरक्षा आयुक्त ने ब्लाक सेक्शन में समपार फाटकों से ओवर हेड की उचित दूरी, पुल-पुलियों तथा ब्लाक सेक्शन में विद्युतीकृत स्टैंडर्ड मानकों के अनुसार लाइन फिटिंग्स आदि का निरीक्षण किया। आजमगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंचे अधिकारी ने हर स्तर पर नियमावली के अनुसार व्यवस्था को परखा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment