.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: बिलरियागंज थानाध्यक्ष धमेंद्र कुमार सिंह भी बने गोल्ड मेडल के हकदार


मुठभेड़ में कई इनामी बदमाशों को कर चुके हैं गिरफ्तार , पूर्व में भी मिला है सिलवर मेडल

आजमगढ़. डीजीपी कार्यालय से जारी सूची में आजमगढ़ के बिलरियागंज थाने के एसओ धमेंद्र कुमार सिंह को भी गोल्ड मेडल के सम्मान में शामिल किया गया है। इससे पहले धमेंद्र कुमार सिंह को सिल्वर मेडल से भी नवाजा जा चुका है।लखनऊ पुलिस हेडक्वार्टर पर रविवार को डीजीपी के हाथों स्वतंत्रता दिवस पर धमेंद्र कुमार सिंह को प्रशंसा चिन्ह गोल्ड मेडल से नवाजा जाएगा। वर्तमान में बिलरियागंज थाने पर तैनात सब इंस्पेक्टर धमेंद्र कुमार सिंह पिछले साल नौ दिसंबर को बिलरियागंज थाने से रवाना होकर विवेचना के लिए दीदारगंज थाना क्षेत्र में गश्त पर थे। इस दौरान 25 हजार के इनामिया अभियुक्त ने एसआई धमेंद्र कुमार सिंह को जान मारने की नीयत से फायर कर दिया था। मगर मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से इनामी अपराधी शैलेंद्र कुमार घायल होने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था। फिर इस साल 15 फरवरी को भी दीदारगंज थाना क्षेत्र में अंतर्जनपदीय 25 हजार के इनामी साइबर अपराधी नवीन गौतम ने भी सब इंस्पेक्टर धमेंद्र कुमार के साथ ही पुलिस फोर्स पर फायर कर भागना चाह रहा था। मगर मुठभेड़ में गोली लगने के बाद शैलेंद्र को भी गिरफ्तार कर लिया गया था। दीदारगंज क्षेत्र में 16 मार्च को मुठभेड़ के दौरान 25 हजार के इनामिया अपराधी बदरे आलम गोली लगने से घायल होने के बाद गिरफ्तार कर जेल भेजा था। यही नहीं सब इंस्पेक्टर धमेंद्र कुमार सिंह ने पवई क्षेत्र में एक जुलाई को मुठभेड़ में 25 हजार के इनामिया नदीम खान को भी अदम्य साहस दिखाते हुए गिरफ्तार किया था। हालांकि गोली लगने से नदीम खान भी घायल हो गया था। वर्तमान में बिलरियागंज थाने के एसओ के रूप में सेवा कर रहे धमेंद्र कुमार सिंह ने कई इनामी बदमाशों को अदम्य साहस का परिचय देते हुए गिरफ्तार जेल की सलाखों में डाल चुके हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment