.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: मामूली विवाद में हुई थी ट्यूबवेल में सोए किसान की हत्या,दो गिरफ्तार


भैंस के पाइप तोड़ने व स्टेबलाइजर लगाने को लेकर थी रंजिश

मेंहनगर के रामपुर बढ़ौना में 12 दिन पूर्व हुई हत्या का मामला 

आजमगढ़ : मेहनगर थाना क्षेत्र के रामपुर बढ़ौना में 12 दिन पूर्व महेंद्र की हत्या मामूली विवाद की अदावत में की गई थी। पुलिस ने दो हत्यारोपितों को गिरफ़तार कर पूछताछ की हैरत में पड़ गई। दरअसल, दोनों बताया कि स्टेबलाइजर लगाने से वोल्टेज डाउन होने व भैंस के पाइप तोड़ने की दोनों के मन में अदावत थी। उनकी निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी भी बरामद कर लिया है। रामपुर बढ़ौना गांव के महेंद्र प्रताप सिंह की 29 जुलाई की रात में सोते समय कुल्हाड़ी से सिर पर प्रहार कर हत्या कर दी गई थी। मृत महेंद्र के बड़े भाई भानुप्रताप सिंह ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मेंहनगर थाना में मुकदमा दर्ज कराया था। इंस्पेक्टर सुनील चंद्र तिवारी ने कहा कि केस के विवेचना में दो आरोपितों का नाम प्रकाश में आया तो सोमवार की सुबह मुखबिर की सूचना पर अहिरौली मोड़ के समीप से फरार चल रहे दो हत्यारोपितों रवि सिंह उर्फ गागा पुत्र राजेन्द्र सिंह व संजय सिंह पुत्र नरेन्द्र सिंह ग्राम रामपुर बढ़ौना थाना मेंहनगर को अहिरौली मोड़ के समीप से गिरफ्तार कर लिया। दोनों ने पूछताछ में हत्यारोपितों ने बताया कि महेंद्र प्रताप स्टेबलाइजर लगा कर मोटर चलाता था। जिससे हम लोगों के बिजली का वोल्टेज कम हो जाता था। उनकी भैंस ने एक दिन महेंद्र के पाइप को तोड़ दिया था। दोनों ही बातों को लेकर महेंद्र से उनकी कहासुनी हुई थी। महेंद्र ने उन्हें देख लेने की धमकी दी थी, दोनो ने मौका मिलते ही हत्या को अंजाम दे दिया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment