.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: भाजपा गद्दी छोड़ो-जनता आ रही है के नारे के साथ सपा ने प्रदर्शन किया


भाजपा शासनकाल में अंग्रेजी हूकूमत से अधिक जुल्म, शोषण, गुण्डागर्दी, भ्रष्टाचार व्याप्त है- सपा जिलाध्यक्ष

आजमगढ़: आजादी की लड़ाई के दौरान महात्मा गॉधी व देश के नेताओं ने निर्णय लेकर ’अंग्रेजों भारत छोड़ो’ का नारा देकर देश की जनता से करो मरो की अपील किया था। उस दौरान कांग्रेस के नेता गिरफ्तार कर लिये गये। लेकिन समाजवादी विचारधारा के लोगों ने गिरफ्तारी न देकर भूमिगत होकर आंदोलन चलाने का निर्णय लिया था। जिसका नेतृत्व डा0लोहिया, लोकनायक जयप्रकाश, अच्युत पटवर्धन, अरूणा आसिफ अली आदि ने किया। जिससे पूरे देश में यह आंदोलन उग्र हो गया। सन् 1942 के आंदोलन के कारण अंग्रेजों को देश छोड़ना पड़ा। इसी मूलमंत्र को लेकर समाजवादी पार्टी ने कहा कि आज भी सन् 1942 की परिस्थिति विद्यमान है। भाजपा शासनकाल में अंग्रेजी हूकूमत से अधिक जुल्म ज्यादिती, शोषण, गुण्डागर्दी, भ्रष्टाचार व्याप्त है। सोमवार को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पार्टी कार्यालय से हाथ में झंडा व तख्तियों पर भाजपा गद्दी छोड़ो-जनता आ रही है के नारे के साथ बैनर लेकर कलेक्ट्रेट नेहरू हाल होते हुए महात्मा गॉधी की मूर्ति पर पंहुच माल्यार्पण किया। जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि गोडसे के विचारधारा को मानने वाली भाजपा के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सम्बोधन में एक बार भी महात्मा गॉधी, पंडित जवाहर लाल नेहरू, सरदार पटेल, अरूणा आसिफ अली आदि नेताओं को नाम नहीं लिया। जो लोग अंग्रेजी हुकूमत की मुखबिरी कर रहे थे, उनकी विचारधारा के लोग महात्मा गॉधी का नाम नहीं लेते।
प्रदर्शन का नेतृत्व जिलाध्यक्ष हवलदार यादव, पूर्व सांसद नन्दकिशोर यादव, जयराम सिंह पटेल, बबिता चौहान, विवेक सिंह, राजेश सरोज, श्यामदेव चौहान, परवेज अहमद, मो0आरिफ, जोरार खॉ, मेराज अहमद, मिर्जा मसूद बेग, निशान्त राय, अर्पित श्रीवास्तव, राजेश यादव, प्रदीप, रामप्रवेश, द्रौपदी पाण्डेय, शिवसागर यादव आदि उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment