.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: प्रशासन ने ढहाया हत्यारोपियों का अतिक्रमण, गांव में फोर्स तैनात



स्वजन की थम नहीं रहीं सिसकियां, 05 नामजद,गिरफ्तारी को दबिश जारी

एक सप्ताह से चल रहा था पानी निकासी का विवाद, बीट पुलिसिंग पर उठे सवाल

पूरा घटना क्रम जानने को नीचे क्लिक करें 

आज़मगढ़ : बरदह के बउवापार गांव में रविवार की रात जल निकासी विवाद में फायरिग कर युवक की जान लेने के मामले में प्रशासन ने दूसरे दिन आरोपितों के अतिक्रमण पर बुलडोजर चलवा दिया। इस कार्रवाई से जल निकासी की समस्या का समाधान निकल आया। उधर मर्डर से गांव में तनाव को देखते हुए फोर्स तैनात कर दी गई है। बरदह पुलिस पांच आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तारी में जुट गई है। एक सप्ताह से चल रहे विवाद के बावजूद जिम्मेदारों को भनक न लग पाना लोगों में सुर्खियां जरूर बना रहा। बउवापार गांव में गोलियां चलाकर दहशत फैलाने वालों ने सरकारी जमीन पर कई पिलर खड़े कर डाले थे। वारदात के बाद पुलिस ने एक्शन लिया तो प्रशासन की भी तंद्रा टूटी। आनन-फानन में पहुंचे राजस्वकर्मियों ने भूमि की नापी कराई तो पता चला कि पिलर अवैध रूप से खड़ा किए जाने से जल निकासी बाधित हो रही है। इसके बाद तो बुलडोजर लगाकर उसे गिरवाया गया तो पूरे गांव के पानी को अपनी राह मिल गई। तहसीलदार मार्टीनगंज हेमंत कुमार बिद ने पाया कि पिलर बंजर भूमि पर बनाए गए थे।
फायरिग में अनूप तिवारी पुत्र लालमन तिवारी की तो मौत हो गई। उनके भाई अखिलेश तिवारी व चचेरे भाई सुधीर तिवारी पुत्र शेषमणि तिवारी वाराणसी में उपचार चल रहा है। ऐसे में गांव में तनाव के दृष्टिगत 12-12 पुलिसकर्मियों की सुबह शाम ड्यूटी लगाई गई है। हमलावर, वारदात के बाद से अपनें घरों को छोड़ चुके हैं।
इधर सोमवार को मृतक अनूप तिवारी का शव पोस्टमार्टम के बाद घर पहुंचा तो स्वजन में हाहाकार मच गया। उनकी दो पुत्रियां व उनकी पत्नी हेमा का रो-रोकर बुरा हाल हुआ था। अनूप वाराणसी में रहकर इलेक्ट्रीशियन का काम करते थे। छुट्टी के दिन घर पहुंच जाते थे। उनका गांव के बाहर जौनपुर-आजमगढ़ हाईवे से सटी भूमि पर एक नया मकान बन रहा है। सोमवार को लौटने वाले थे, कि उससे पूर्व ही घटना हो गई।
वही पीड़ित पक्ष की तहरीर पर पुलिस ने आकाश, आशीष पुत्रगण सतशील, सतशील, घनश्याम पुत्र लालसा व आशुतोष पुत्र रविकांत निवासी ग्राम बउवापार थाना बरदह के निवासी हैं।
एसपी सुधीर कुमार सिंह ने कहाकि सभी आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगी। ऐसी घटनाएं रोकने को गांव के लोगों को ही आगे आना पड़ेगा। इलकाई पुलिस को सूचना दी जाए, मुझे मोबाइल पर मैसेज करें तो निश्चित रूप से कार्रवाई होगी। मैं रात में मौके पर गया था, मौके को भी देखा। अवैध अतिक्रण गिराकर जलनिकासी की व्यवस्था भी करा दी गई है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment