.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: दिल्ली के बाद अब आजमगढ़ में भी खुलेगा 'बाबा का ढाबा'


सोशल मीडिया सेलेब्रिटी बने कांता प्रसाद आएं है अपने गांव पिपरी

आजमगढ़ : दिल्ली के मालवीय नगर से शोहरत बटोरने के बाद अब 'बाबा का ढाबा' आजमगढ़ में भी खुलेगा। ढाबा के मालिक सेलिब्रेटी कांता प्रसाद ने खुद इसकी मंशा जताई है। सदी के महानायक अमिताभ बच्चन, सिने तारिका रवीना टंडन सरीके सेलिब्रेटीज की तारीफ ने 81 वर्षीय बुजुर्ग को कॅरियर को नई उड़ान भरने की ऊर्जा दे दी है। लाजिमी भी कि उनकी बनाई कम मसाला वाली मटर पनीर व सोयाबड़ी की सब्जी की स्वाद कोठीवालों तक को ढाबे पर खींच लाती है। कांता प्रसाद फिलहाल आजमगढ़ के बूढ़नपुर तहसील अंतर्गत पिपरी गांव स्थित अपने पैतृक गांव आए हुए हैं। उन्हें सौ वर्षीय मां जीरा देवी एवं भाइयों का स्नेह आजमगढ़ खींच लाता है।
यहां उन्होंने से बातचीत में संघर्ष के दिनों की बातें बताई। कहा कि 1971 में मजदूरी करने दिल्ली गए थे। वहां से 1986 में घर लौटे तो मिट्टी के प्रेम ने रोक लिया लेकिन रोजगार की बात नहीं बनी तो 1998 में दिल्ली लौट मालवीय नगर में रेहड़ी पर चाय बेचने लगे। 1990 में महानगर की जमीन पर 1500 रुपये सालाना तहबाजारी देकर ढाबा खोला तो कारोबार चल पड़ा। कहा कि मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल व उनके विधायक शोभनाथ भारती भी मेरा ढाबा देख चुके हैं।
ढाबे में बनी मटर पनीर और सोयाबड़ी कम मसाला वाली सब्जी की खूब डिमांड है। कोठीवाले से लेकर ठेला-खोमचा वाले मजदूर भी भोजन करने आते हैं। बताते हैं कि आम लोगों को दो सब्जी, चावल, दाल परेठा की थाली 70 रुपये तो गरीबों को 50 रुपये में भरपेट भोजन खिलाता हूं। सुबह 6.30 बजे ढाबा खुलकर शाम पांच बजे बंद हो जाता है।
यूट्यूबर से विवाद खत्म हुआ
कहा कि जिस व्यक्ति ने मेरी मदद की गुहार को यूट्यूब पर पोस्ट किया था, उसने मेरा नहीं बल्कि अपने बैंक का खाता नंबर दे दिया था। कुछ लोगों की पहल के बाद उस व्यक्ति ने 3.80 लाख रुपये दिए तो विवाद खत्म हो गया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment