.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: बकाएदार ईंट भट्ठों पर कार्रवाई, वसूले गए कुल 29.72 लाख


नोटिस, आरसी के बाद भी 2015 से बकाया रायल्टी जमा नहीं की गई

मुबारकपुर,बुढ़नपुर और लालगंज में प्रशासन ने की कार्यवाही

आजमगढ़: बिना रायल्टी जमा किए ईंट भट्ठा संचालन पर जिला प्रशासन सख्त हो गया है। तहसील सदर के मुबारकपुर और बूढ़नपुर क्षेत्र बकाएदारों के खिलाफ कार्रवाई की गई। मुबारकपुर में तो कई संचालकों को थाने में बैठा दिया गया। बकाया राजस्व जमा करने के बाद छोड़ा गया। कई भट्ठाें पर रखे गए कच्चे ईंट को नष्ट करा दिया गया। प्रशासन की इस कार्रवाई से बकाएदार संचालकों में हड़कंप की स्थिति है। इस दौरान कुल 29.72 लाख रुपये की वसूली की गई।उधर, एडीएम लालगंज ने 77 बकाएदार संचालकों की सूची जारी की है। 
मुबारकपुर में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट आइएएस(एसडीएम सदर) गौरव कुमार के नेतृत्व में खनन विभाग की टीम ने थाना मुबारकपुर के पिचरी स्थित सुनील कुमार सिंह (बीकेओ), इब्राहिमपुर स्थित मो. अली (बीकेओ), अबुशाद अहमद (बीकेओ) टड़िया खान, आरएसबी (बीकेओ) मिर्जापुर पिचरी और जेपी सिंह (बीकेओ) पिचरी के ईंट भट्ठा पर कार्रवाई हुई। एसडीएम ने बताया कि संबंधित संचालकों पर सत्र 2015 से लगभग 25 लाख रुपये रायल्टी (विनियमन शुल्क) बकाया था। नोटिस की बाद भी जमा नहीं किया जा रहा था, जिस पर कार्रवाई की गई। शेष धनराशि जमा न करने पर भट्ठा को सील कर दिया जाएगा। बूढ़नपुर में एसडीएम अरविंद सिंह के निर्देशन में तहसील क्षेत्र के भागीरथी ईंट भट्ठा तोनारी, फूलमती ईंट भट्ठा संसारा, राधे ईंट भट्ठा कौड़िया, एसकेएस ईंट उद्योग सरैया और मां शारदा ईंट भट्ठा बरौली बूढ़नपुर के संचालकों से 12.50 लाख रुपये की वसूली की गई। लालगंज में एसडीएम लालगंज पंकज कुमार श्रीवास्तव ने क्षेत्र के 77 बकाएदार ईंट भट्ठाें की सूची जारी की है। चेतावनी दी है कि यदि दो दिन में बकाया राजस्व जमा नहीं किया गया तो संचालकों की गिरफ्तारी भी की जाएगी और संपत्ति भी कुर्क की जाएगी। खनन निरीक्षक व पुलिस बल के साथ कार्रवाई की जाएगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment