.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे में बाधा बनी फसल को रौंदा गया,किसानों ने किया विरोध


पुलिस और पीएसी के जवानों ने लाठी के बल पर किसानों को खदेड़ा

किसानों ने कहा कि एक महीने में फसल तैयार हो जाती और तब तक सभी को मुआवजा भी मिल जाता

आजमगढ़: गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के निर्माण में आड़े आ रही किसानों की फसल को रविवार को रौंद दिया गया। विरोध में आक्रोशित किसान जब सामने आए,तो पुलिस और पीएसी के जवानों को अधिकारियों ने बुला लिया। पुलिस ने लाठी के बल पर किसानों को दौड़ा लिया। किसानों और पुलिस के बीच तनाव को देखते हुए मौके पर अधिकारियों के साथ पुलिस फोर्स घंटों तक जमी रही। बूढ़नपुर तहसील से होकर गुजर रहे गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए भूमि अधिग्रहण को लेकर शुरूआत से ही किसान रह-रह कर आंदोलन करते आ रहे हैं। अतरौलिया क्षेत्र के अकबेलपुर, गोरहरपुर, हैदरपुर खास, गनपतपुर ,गदनपुर, गोरथानी आदि गांव के किसानों का कहना है कि अभी उनकी जमीन की रजिस्ट्री नहीं कराई गई है। इसके बाद भी प्रशासन ने भूमि की अधिग्रहण की कार्यवाही शुरू कर दी है। तमाम किसानों को अधिग्रहण की कार्रवाई के बाद भी अब तक जमीन का मुआवजा प्राप्त नहीं हो सका । इसके बाद भी रविवार को सुबह सड़क निर्माण की कार्यदायी संस्था ने किसानों की फसल को रौदने की कार्रवाई शुरू करा दी। अपनी खड़ी फसल को बर्बाद होते देख कुछ किसान मौके पर पहुंच कर प्रशासन से इस बात का विरोध जताने लगे ,तो वहां पर मौजूद प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों के इशारे पर मौजूद पुलिस और पीएसी के जवानों ने किसानों को खदेड़ लिया।
किसानों का कहना था कि खेत में खड़ी सरसों एवं गेहूं की फसल लगभग एक महीने में तैयार हो जाती। उसके बाद प्रशासन द्वारा जमीन अधिग्रहण कर लिया जाता ,तब तक जमीन का मुआवजा भी मिल जाता । ।इस मौके पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेंद्र सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व गुरु प्रसाद गुप्ता, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण सिद्धार्थ, उप जिलाधिकारी अरविंद कुमार सिंह, क्षेत्राधिकारी महेंद्र शुक्ला, तहसीलदार शक्ति प्रताप सिंह सहित कई थानों की पुलिस एवं पीएसी बल के जवान भी मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment