.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: एमएलसी अरविन्द शर्मा से मिला विश्वविद्यालय अभियान का प्रतिनिधिमंडल


विधान परिषद सदस्य अरविन्द शर्मा को ज्ञापन सौंप शीघ्र शिलान्यास कराने की मांग की गई

आज़मगढ़: विश्वविद्यालय अभियान की टीम ने विश्वविद्यालय के निर्माण के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निकट रहे विधान परिषद सदस्य अरविन्द शर्मा को ज्ञापन सौंपा और शीघ्र शिलान्यास कराने की मांग की। मऊ स्थित आवास पर रविवार को विश्वविद्यालय अभियान के प्रतिनिधिमंडल ने अरविन्द शर्मा के सम्मुख लोक निर्माण विभाग और जिला प्रशासन द्वारा मुख्यमंत्री के विश्वविद्यालय के ड्रीम प्रोजेक्ट का सत्यानाश करने का आरोप जड़ा। आरोप लगाया कि करोडो रूपए मुआवजा देने से पहले लो लैंड नहीं दिख रहा था और ज़ब शासन ने एस्टीमेट में दर्शाये गए मिट्टी पाटने के बजट को घटाकर आधा कर दिया तो जमीन लो लैंड हो गईं। यही नहीं अन्य जमीन तलाशने के नाम पर पूरी योजना को खटाई में डालने की कोशिश की जा रही है। आशंका व्यक्त किया कि अन्य जगह नये सिरे से जमीन खरीदारी में भी घोटाले होंगे। विश्वविद्यालय के लिए अम्बेडकरनगर के करीब मकरहां गांव की जमीन का प्रस्ताव भेजनें की कोशिश करने को राजनीतिक षड़यंत्र बताया। प्रतिनिधिमंडल ने सवाल उठाया कि काश्तकारों की कीमती जमीन का अधिग्रहण भी किया जा चुका है। उनका मुआवजा कैसे वापस होगा? कार्यदायी संस्था लोक निर्माण विभाग मिट्टी पाटने के लिए 50 करोड़ मांग रही है जिसमे शासन ने कटौती की। इसी को लेकर वास्तविक समस्या है। शासकीय धन का दुरूपयोग किया जा रहा है जिसे जनपदवासी कभी बर्दास्त नहीं करेंगे। किसी भी कीमत पर मोहब्बतपुर से विश्वविद्यालय नहीं जाने देंगे। प्रतिनिधिमंडल में डा0सुजीत, राकेश गाँधी, शिवबोधन उपाध्याय, अमित कुमार सिंह, दीनानाथ सिंह, डी0एन0सिंह, शमशाद अहमद, सत्यजीत श्रीवास्तव, सुजीत सिंह, शैलेन्द्र कुमार, मार्तण्ड प्रताप सिंह और आलोक कुमार सिंह सम्मिलित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment