.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: 16 फरवरी से होगी अभ्युदय योजना में प्रतियोगी परीक्षाओं की निःशुल्क कोचिंग


मण्डलायुक्त ने लिया उपलब्ध संसाधनों व तैयारियों का जायजा,आवेदन के लिए वेबसाइट हुई लांच

प्रथम चरण में सिविल सेवा (आईएएस, पीसीएस), नीट, जेईई तथा एनडीए की क्लासेज़ चलाई जायेंगी

आज़मगढ़ 10 फरवरी -- आगामी 16 फरवरी से मण्डल मुख्यालय पर मुख्यमन्त्री अभ्युदय योजना के अन्तर्गत निःशुल्क संचालित होने वाले प्रतियोगी परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण केन्द्रों की तैयारियों का जायजा लेने हेतु मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त की अध्यक्षता में उनके कार्यालय सभागार में मंगलवार को देर सायं बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रथम चरण में प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे सिविल सेवा (आईएएस, पीसीएस), नीट, जेईई तथा एनडीए की क्लासेज़ चलाई जायेंगी। मण्डलायुक्त ने कहा कि इन प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु स्थानीय डीएवी पीजी कालेज, शिब्ली नेशनल पीजी कालेज, डीएवी इण्टर कालेज तथा शिब्ली नेशनल इण्टर कालेज में प्रशिक्षण दिया जायेगा, परन्तु किस किस कोर्स का प्रशिक्षण इन कालेजो में दिया जायेगा, इस सम्बन्ध में स्मार्ट क्लास की व्यवस्था होने के बाद निर्णय लिया जायेगा। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने निर्देश दिया कि मुख्य विकास अधिकारी, उपजिलाधिकारी सदर, उप निदेशक समाज कल्याण एवं अपर संख्याधिकारी आपस में समन्वय स्थापित करते हुए योजना से सम्बन्धित समस्त कार्यवाही नियमानुसार करें तथा समय-समय पर उनसे तथा जिलाधिकारी को अवगत कराते हुए मार्गदर्शन प्राप्त करें। उन्होंने कोचिंग कक्षाओं के संचालन के सम्बन्ध में राजकीय, अनुदानित तथा प्राइवेट शिक्षकों का पैनल तैयार करने हेतु संयुक्त निदेशक, माध्यमिक शिक्षा एवं जिला विद्यालय निरीक्षक की जिम्मेदारी तय करते हुए निर्देश दिया कि मुख्य विकास अधिकारी एवं उप निदेशक समाज कल्याण से समन्वय स्थापित करते हुए शिक्षकों को पैनल तैयार कर समय से अवगत करायें। उन्होंने प्रशिक्षण देने वाले अधिकारियों का पैनल तैयार करने की जिम्मेदारी मुख्य विकास अधिकारी, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी सदर, उप निदेशक समाज कल्याण एवं अपर संख्या अधिकारी को सौंपते हुए निर्देश दिया कि आपस में समन्वय स्थापित कर शीघ्र पैनल तैयार करें। समीक्षा बैठक में एनआईसी के एडीआईओ को निर्देश दिया कि प्रशिक्षण के लिए 12 फरवरी तक चार यू ट्यूब चैनल तैयार करते हुए अवगत करायें।
मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने बैठक में मुख्यमन्त्री अभ्युदय योजना के अन्तर्गत संचालित होने वाले निःशुल्क प्रशिक्षण केन्द्र के सम्बन्ध में बताते हुए कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे- सिविल सेवा, जेईई, नीट, एनडीए, सीडीएस इत्यादि हेतु निजी क्षेत्र के प्रशिक्षण व्यवस्थाओं में संसाधनों की कमी से ग्रामीण क्षेत्र तथा निर्बल आय के परिवारों के प्रतिभावान, मेधावी व लगनशील एवं परिश्रमी बच्चे इन परीक्षाओं की गुणवत्तापूर्ण तैयारी नहीं कर पाते हैंै। ऐसे बच्चों की आवश्यकता को देखते हुए शासन द्वारा प्रतियोगी परीक्षाओं के स्तर पर समय-समय पर परिवर्तित होते हुए पाठ्यक्रम के अनुरूप विषय विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में प्रतिस्पर्धात्मक तैयारी हेतु प्रदेश के समस्त मण्डल मुख्यालयों पर युवाओं के मार्गदर्शन के लिए राजकीय क्षेत्र में भी परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण केन्द्रों की स्थापना का निर्णय लिया गया है। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने बताया कि शासन द्वारा लिये गये निर्णय के क्रम में इस योजना के अन्तर्गत आज़मगढ़ में भी निःशुल्क प्रशिक्षण केन्द्र का शुभारम्भ 16 फरवरी से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु प्रतिभाशाली तथा उत्साही विद्यार्थियों को निःशुल्क साक्षात प्रशिक्षण, आॅनलाइन प्रशिक्षण एवं सलाह राज्य सरकार में कार्यरत आईएएस, आपीएस, पीपीएस एवं अन्य संवर्ग के अधिकारिया, सेवानिवृत्त अधिकारियों, विषयवस्तु विशेषज्ञों द्वारा साक्षात, वर्चुअल कक्षाओं के माध्यम से प्रदान की जायेगी। उन्होंने बताया कि इस योजना का उद्देश्य संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षाओं, उप्र लोक सेवा आयोग, अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, अन्य भर्ती बोर्ड, जेईई एवं नीट की परीक्षाओं, एनडीए, सीडीएस, अन्य सैन्य सेवाओं, अर्द्धसैनिक/केन्द्रीय पुलिस बल की भर्ती आदि मुख्य परीक्षाओं एवं साक्षात्कार के लिए उच्चस्तरीय मार्गदर्शन तथा परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण उपलब्ध कराना है। मण्डलायुक्त ने बताया कि बसन्त पंचमी के शुभ अवसर पर 16 फरवरी से मण्डल मुख्यालय पर मुख्यमन्त्री अभ्युदय योजना के अन्तर्गत संचालित होने वाले उक्त प्रशिक्षण केन्द्र में निःशुल्क कोचिंग के लिए आनलाइन आवेदन हेतु वेबसाइट http://www.abhyuday.up.gov.in/ लांच कर दी गयी है, जिसके माध्यम से इच्छुक छात्र/छात्रायें आवेदन कर सकते हैं।बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी राजेश कुमार ने भी आवश्यक सुझाव एवं दिशा निर्देश दिया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी सदर गौरव कुमार, मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, अपर आयुक्त (प्रशासन) अनिल कुमार मिश्र, उप निदेशक समाज कल्याण सुरेशचन्द, प्राचार्य शिब्ली नेशनल पीजी कालेज डा. मुहम्मद सलमान अन्सारी, प्राचार्य डीएवी पीजी कालेज डा. सुचिता श्रीवास्तव, प्राचार्य राजकीय महिला पीजी कालेज अम्बारी, प्रभागीय वनाधिकारी, संयुक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा, प्राचार्य डायट, अपर संख्याधिकारी सुनील कुमार प्रजापति सहित अन्य अधिकारी एवं शैक्षिक संस्थाओं के प्राचार्यगण उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment