.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: कैफी आजमी की शायरी में गरीबों और मजलूमों का दर्द समाहित है



मेजवां में मनाया गया प्रख्यात शायर व फिल्म गीतकार कैफी आजमी का 102 वां जन्मदिन

फूलपुर :आजमगढ़: प्रख्यात शायर व फिल्म गीतकार कैफी आजमी का 102 वां जन्मदिन गुरुवार को उनके पैतृक आवास फूलपुर तहसील के मेजवां गांव स्थिति फतेह मंजिल में मनाया गया। मेजवां वेलफेयर सोसायटी के तत्वावधान में आयोजित जयंती समारोह में कैफी आजमी ग‌र्ल्स इंटर कालेज की छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति से लोगों का दिल जीत लिया। फतेह मंजिल में मरहूम कैफी आजमी द्वारा अपने जीवन काल के दौरान इस्तेमाल किए गए सामानों की प्रदर्शनी भी लगाई गई। पूर्व विधायक श्याम बहादुर सिंह यादव ने कहा कि कैफी आजमी जिले में रेल सुविधाओं के लिए आंदोलन से जुड़े रहे। एसडीएम रावेंद्र सिंह ने कहा कि कैफी साहब ने मुंबई की चकाचौंध भरी जिंदगी को छोड़कर गांव के विकास के बारे में सोचा। कामरेड हरिमंदिर पांडेय ने कहा कि कैफी आजमी की शायरी में गरीबों और मजलूमों का दर्द समाहित है। उनके द्वारा किए गए कार्य आज भी प्रासंगिक है। कार्यक्रम की शुरुआत एसडीएम फूलपुर रावेंद्र सिंह ने कैफी आजमी और उनके पिता फतेह हुसैन की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया। उपस्थित लोगों ने कैफी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी और उनके बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। मेजवां वेलफेयर सोसायटी के प्रबंधक आशुतोष त्रिपाठी ने आभार व्यक्त किया। संचालन जितेंद्र हरि पांडेय एडवोकेट ने किया। इस मौके पर पीआर गौतम, मो. हसीब, मो. आसिफ, मो. सादिक, राजेश यादव , संयोगिता, हसीब, गोपाल सुवेदी, सीताराम, जैकी, कमला सिंह आदि थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment