.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: किसान यात्रा में चीनी मिल पंहुचे सपाइयों ने मिल प्रबंधन पर शोषण का आरोप लगाया


पूर्व जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में किसान यात्रा के तहत मिल प्रबंधन को 5 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा गया

आज़मगढ़: सठियांव : समाजवादी पार्टी मुबारकपुर विधान सभा क्षेत्र में पूर्व जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में सपाईयों ने सोमवार को किसान यात्रा के तहत मिल प्रबंधन को 5 सूत्रीय ज्ञापन सौंपते हुए आरोप लगाया कि सरकार के इशारे पर मिल प्रशासन किसानों का शोषण कर रहीं हैं । पूर्व जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव ने ज्ञापन के माध्यम से प्रधान प्रबंधक को बताया कि आन लाईन पर्ची सिस्टम से किसानों को गन्ना सप्लाई का सहीं समय मालूम नहीं पड़ता क्योंकि जिले के अधिकांश किसान कम पढ़े लिखे और इंटरनेट मोबाइल से जुड़े नहीं है लिहाजा देर सबेर गन्ने की आपूर्ति करतें हैं और मुख्य गन्ना अधिकारी गन्ना वापस करा देते है। अब तक विभिन्न कारणों से मिल प्रशासन द्वारा 20 ट्राली गन्ना वापस किया जा चुका है । अखिलेश यादव ने कहा कि आपूर्ति का समय बढ़ाया जाये, तौल में धांधली, मिल से निकलने वाले केमिकल व दुषित पानी की समुचित व्यवस्था, गन्ना किसानों का बकाया मूल्य का भुगतान अविलंब हो अन्यथा किसानों की लड़ाई आर पार की होगी । इस संबंध में प्रधान प्रबंधक डी पी सिंह ने कहा कि पूर्व जिलाध्यक्ष अखिलेश के ज्ञापन पर विचार करते हुए सप्लाई की अवधि तीन दिन के स्थान पर पांच दिन गन्ना भुगतान और दुषित पानी के निकास की व्यवस्था करने का आश्वासन दिया । जबकि सपाईयों ने आरोप लगाया कि मिल प्रशासन सरकार के इशारे पर किसानों का शोषण कर रहा है और गन्ना वापस कर यह साबित करना चाहता है कि आजमगढ़ में चीन मिल चलाने के लिए गन्ना उपलब्ध नहीं है और बाद में पूर्व की भातिं मिल बंद कर देगें । ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से बहादुर यादव, राजेश यादव महा प्रधान, ज्याउल्लाह महा प्रधान, किशोर यादव, लालचंद यादव प्रधान, पारस यादव, राम अवध यादव डायरेक्टर, चंदन, बिरेंद्र सिंह संचालक आदि उपस्थित थे ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment