.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: 04 माह में हो चुकी हैं 07 राजनीतिक हत्याएं


प्रतिदिन चार-छह चुनावी रंजिश में मारपीट की घटनाएं भी हो रहीं है

पंचायत चुनाव अभी घोषित भी नही हुआ और  चुनावी रंजिश चरम पर पहुंच गई

आजमगढ़। अभी पंचायत चुनाव की घोषणा नहीं हुई है। इसके बाद भी चुनावी रंजिश चरम पर पहुंच गई है। बीते चार माह में जिले के अंदर सात लोगों की चुनावी रंजिश में हत्या हो चुकी है। वहीं मारपीट के घटनाओं की बात की जाए तो इसकी कोई गिनती ही नहीं है। प्रतिदिन चार-छह चुनावी रंजिश को लेकर मारपीट की घटनाएं होती रहती है। राजनैतिक हत्याओं पर लगाम लगाने को बीट पुलिसिंग को मजबूत करने की कवायद महकमे ने शुरू किया था लेकिन अब तक महकमे की सारी कवायद हवा-हवाई ही साबित हो रही है।जिले में राजनैतिक हत्याओं का दौर 13 अगस्त से शुरू हुआ। पड़ोसी गांव के प्रधान के यहां पार्टी करने गए देवगांव कोतवाली क्षेत्र के नाऊपुर गांव निवासी हीरालाल यादव व उसके पुत्र तेज यादव की प्रधानी के चुनाव की रंजिश केे लेकर हत्या कर दी गई। इस हत्याकांड में महिला प्रधान के साथ ही अन्य आरोपी गिरफ्तार हो चुके है। इस घटना के अगले ही दिन तरवां थाना क्षेत्र के बासगांव ग्राम के प्रधान सत्यमेव जयते उर्फ पप्पू राम की गांव के पास स्थित इंटर कालेज के पास गोली मार कर हत्या कर दी गई। प्रधान हत्याकांड में चार लोग नामजद किए गए थे। जिसमें तीन को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा तो वहीं मुख्य हत्यारोपी सूर्यांश दुबे को अभी तीन दिन पूर्व ही मुठभेड़ में मार गिराया। इसके बाद अगली राजनैतिक हत्या 24 अगस्त को निजामाबाद थाना क्षेत्र में हुई। नेवादा गांव निवासी व बीडीसी सुरेंद्र यादव की बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दिया। इस हत्याकांड के भी सभी प्रमुख हत्यारोपी पुलिस की गिरफ्त में है। सितंबर माह राजनैतिक हत्याओं के मामले में शांत रहा। 8 अक्टूबर को पवई थाना क्षेत्र के जल्दीपुर गांव निवासी व भाजपा नेता अर्जुन यादव की बाइक सवार बदमाशों ने उस समय गोली मार कर हत्या कर दिया जब वह अपनी दुकान बंद कर घर लौट रहे थे। इस हत्याकांड का भी खुलासा पुलिस ने कर दिया है और एक हत्यारोपी को गिरफ्तार कर जेल भी भेजा जा चुका है। इसी दिन मेंहनगर थाना क्षेत्र में एक महिला बीडीसी के पुत्र की संदिग्धावस्था में मौत हो गई। बाद में हत्या की पुष्टि हुई और दो अपचारी बालक पकड़े भी गए। राजनैतिक हत्या का सिलसिला यहीं थमा नहीं। शनिवार को रानी की सराय थाना क्षेत्र के अल्लीपुर गांव के 15 वर्षो तक प्रधान रहे राजेश यादव की गोली मार कर हत्या कर दी गई।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment