.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: गन्ना कृषकों के पिछले वर्ष का बकाया भुगतान कराना सुनिश्चित करें- नोडल अधिकारी



प्रमुख सचिव/नोडल अधिकारी के० रविन्द्र नायक ने चीनी मिल तौल केंद्र और अन्य धान क्रय केंद्रों का निरीक्षण किया

आजमगढ़ 28 दिसम्बर-- प्रमुख सचिव, ग्राम्य विकास विभाग एवं आयुक्त ग्राम्य विकास उत्तर प्रदेश/नोडल अधिकारी आजमगढ़ के0 रविन्द्र नायक द्वारा दि किसान सहकारी चीनी सहकारी मिल लि0 सठियाॅव में स्थापित मानव रहित काॅटा गन्ना तौल केन्द्र, राजकीय धान क्रय केन्द्र मुबारकपुर (खाद्य विभाग), पीसीएफ धान क्रय केन्द्र मन्दूरी एवं गन्ना क्रय केन्द्र बूढ़नपुर-ए का आकस्मिक निरीक्षण किया गया।
निरीक्षण के दौरान दि किसान सहकारी चीनी मिल लि0 सठियाॅव एवं गन्ना क्रय केन्द्र बूढ़नपुर-ए में स्थित गन्ना तौल केन्द्र पर नोडल अधिकारी द्वारा इलेक्ट्रानिक काॅटे की जाॅच की गयी। इसी के साथ ही नोडल अधिकारी ने जीएम चीनी मिल सठियाॅव को निर्देश दिये कि जिन किसानों का पर्ची से गन्ने का तौल किया जाए, उनका भुगतान प्राथमिकता के आधार पर जल्द से जल्द कराना सुनिश्चित करें। साथ ही जो किसान पर्ची के निर्धारित तिथि पर किन्ही कारणों से गन्ना तौल नही करा पा रहे हैं, उन किसानों का भी गन्ना तौल करायें। 
इसी के साथ ही नोडल अधिकारी द्वारा उपस्थित गन्ना कृषकों से बातचीत की गयी, बातचीत के दौरान कृषकों से जानकारी प्राप्त हुई कि पिछले वर्ष का किसानों के गन्ने का भुगतान नही हुआ है, जनपद के किसानों के गन्ने का भुगतान पिछले वर्ष का 54 करोड़ रू0 बकाया है। जिस पर नोडल अधिकारी ने जीएम चीनी मिल सठियाॅव को निर्देश दिये कि गन्ना कृषकों के पिछले वर्ष का बकाया भुगतान कराना सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही गन्ना कृषकों के जो पर्ची की सूचना एसएमएस के माध्यम से की जा रही है, उसके साथ ही कृषकों को फोन के माध्यम से भी सूचित किया जाए। इसी के साथ ही किसानों के गन्ना तौल में किसी भी प्रकार की लापरवाही न की जाय। 
इसी के साथ ही नोडल अधिकारी ने गन्ना कृषकों से यह भी जानकारी प्राप्त की गयी कि गन्ना के लोडिंग-अनलोडिंग में पैसा तो नही लिया जा रहा है।
इसी के साथ ही नोडल अधिकारी द्वारा राजकीय धान क्रय केन्द्र मुबारकपुर (खाद्य विभाग) एवं पीसीएफ धान क्रय केन्द्र मन्दूरी का निरीक्षण किया गया।
नोडल अधिकारी द्वारा स्वयं धान के सैम्पल का नमी मापक यंत्र से नमी की जाॅच की गयी, जिसमें 13.10 प्रतिशत की आर्द्रता पायी गयी, लेकिन 17 प्रतिशत तक आर्द्रता स्वीकृत है। इसी के साथ ही नोडल अधिकारी द्वारा धान क्रय केन्द्र पर धान के स्टाक के बारे में भी जानकारी प्राप्त की गयी।
इसी के साथ ही नोडल अधिकारी ने धान क्रय केन्द्र प्रभारियों को निर्देश दिये कि जो अभी भी स्टाक में जो धान पड़े हुए हैं, उसको राइस मिलरों को दो दिन के अन्दर धान की डिलिवरी कराना सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही जिन किसानों से धान क्रय किया जा रहा है, उनका भुगतान प्राथमिकता के आधार पर 72 घण्टे के अन्दर करना सुनिश्चित करें। 
नोडल अधिकारी द्वारा उक्त धान क्रय केन्द्र के स्टाक रजिस्टर एवं क्रय पंजिका का अवलोकन किया गया। इसी के साथ ही नोडल अधिकारी ने केन्द्र पर उपस्थित किसानों से बातचीत की। उन्होने किसानों से जानकारी प्राप्त किया कि धान क्रय करने में क्या-क्या समस्याएं हैं, इसके लिए धान क्रय केन्द्र प्रभारियों को निर्देश दिये कि किसानों का धान क्रय करने में किसी भी प्रकार की लापरवाही न करें। इसी के साथ ही जिन किसानों का भुगतान किन्ही कारणों से 72 घण्टे के अन्दर नही हो पाया है, उनका भुगतान प्राथमिकता के आधार पर कराना सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह, एसडीएम सदर/ज्वाइण्ट मजिस्ट्रेट गौरव कुमार आईएएस, एसडीएम सगड़ी, एसडीएम बूढ़नपुर, डिप्टी आरएमओ आरपी पटेल, डीईएसटीओ आरडी राम, खण्ड विकास अधिकारी सठियाॅव सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment