.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: पूर्व में स्थापित आटो रिक्शा स्टैण्ड को नगर पालिका तत्काल संचालित करे: मण्डलायुक्त


परमिटेड बसों का संचालन निर्धारित रूट पर ही होना सुनिश्चित किया जायः जिलाधिकारी

आरटीए तथा मण्डलीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में अनुपस्थित एनएचएआई के परियोजना निदेशक से स्पष्टीकरण तलब

आज़मगढ़ 9 अक्टूबर - मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त की अध्यक्षता में आरटीए (संभागीय परिवहन प्राधिकरण) तथा मण्डलीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक वृहस्पतिवार को देर सायं उनके कार्यालय के सभागार सम्पन्न हुई। बैठक को सम्बोधित करते हुए मण्डलायुक्त श्री पन्त ने कहा आज़मगढ़ शहर के अन्दर आटो रिक्शा एवं टैक्सी आदि को अव्यवस्थित ढंग से पार्किंग किये जाने से लगातार जाम की स्थिति बनी रहती है। इस स्थिति से निजात पाने के लिए परिवहन से सम्बन्धित संगठनों के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर समुचित समाधान निकाला जाय। बैठक में मण्डलायुक्त को अवगत कराया गया कि नगर पलिका क्षेत्र आज़मगढ़ में पूर्व से स्थापित आटो रिक्शा स्टैण्ड को नगर पालिका द्वारा संचालित नहीं किया जा रहा है। इस पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए अधिशासी अधिकारी को सख्त निर्देश दिये कि सभी स्थापित आटो रिक्शा स्टैण्ड को तत्काल नगर पालिका द्वारा वैध रूप से संचालित किया जाय, अन्यथा आपके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि नगर सीमा में चलने वाले एवं अन्य क्षेत्र में चलने वाले परमिट प्राप्त आटो रिक्शों की पहचान हेतु उसे अलग अलग रंग का कराये जाने अथवा उस पर पट्टी डाले जाने हेतु सम्बन्धित संघ, परिवहन, पुलिस, नगर पलिका शीघ्र बैठक कर निर्णय लें ताकि चेकिंग में आसानी हो। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने राजकीय मेडिकल कालेज चक्रपानपुर के लिए मरीजों एवं वहाॅं के स्टाफ के आवागमन में हो रही दिक्कतों के दृष्टिगत क्षेत्रीय प्रबन्धक रोडवेज को तत्काल बसों का संचालन करने निर्देश दिया, जिस पर आरएम ने तत्काल सहमति देते हुए कहा कि आज़मगढ़ रोडवेज से प्रतिदिन प्रातः 8 बजे से राजकीय मेडिकल कालेज तक वहाॅं से 4 बजे आज़मगढ़ के लिए बस चलेगी। बैठक में मण्डल के तीनों जनपदों में कतिपय रूट पर प्राइवेट बसों के संचालन की अनुमति प्रदान किये जाने के सम्बन्ध में प्राप्त आवेदन पत्रों पर चर्चा के दौरान पाया गया कि मऊ एवं बलिया जनपद से जिन मार्गों पर संचालन के परमिट हेतु आवेदन किया गया है उस पर रोडवेज की बसें पहले से ही संचालित हैं, जबकि आज़मगढ़ में प्रस्तावित दो रूट्स पर रोडवेज की बसें संचालित नहीं हैं। इसपर मण्डलायुक्त ने संभागीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिया कि प्रस्तावित रूट का मुआयना कर ब्लैक स्पाट आदि देख लें तथा एक सप्ताह के अन्दर वस्तुस्थिति से अवगत करायें।
बैठक में जिलाधिकारी राजेश कुमार ने निर्देश दिया कि प्राइवेट बसों को जिस रूट पर संचालन का परमिट दिया गया है सुनिश्चित करें कि परमिटेड बसें उसी रूट पर चलें। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि बसों को जितनी दूरी का परमिट दिया गया है उससे अधिक दूरी का संचालन किसी भी नहीं होना चाहिए तथा ऐसी बसों पर अनुमन्य दूरी स्पष्ट रूप से लिखी होना चाहिए। इसी प्रकार उन्होंने नगरीय क्षेत्र में चलने वाले आटो रिक्शा पर भी अंकन कराये जाने का निर्देश दिया।
मण्डलीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में बताया गया कि आज़मगढ़ में कुल 25, मऊ 14 एवं बलिया में 21 ब्लैक स्पाट चिन्हित हैं जिसमें लोक निर्माण विभाग की सड़कांे पर आज़मगढ़ में चिन्हित सभी 13, मऊ में सभी 8 एवं बलिया में 10 ब्लैक स्पाट पर सुधारात्मक कार्यवाही की गयी है, परन्तु एनएचएआई की सड़कों पर हुई कार्यवाही के सम्बन्ध में जानकारी देते हेतु परियोजना निदेशक उपस्थित नहीं थे। इस पर मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए इस सम्बन्ध में एनएचएआई के परियोजना निदेशक को स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। बैठक में अवगत कराया गया कि आज़मगढ़-वाराणसी मार्ग पर एनएचएआई द्वारा निर्मित अण्डर पास के दोनों तरफ सड़के ऊॅंची बनाये जाने के कारण अण्डर पास में भारी जल जमाव होता है जिससे बड़ी दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। इस पर मण्डलायुक्त ने कहा कि सम्बन्धित परियोजना निदेशक को इस स्थिति से अवगत कराते हुए इस आशय का निर्देश निर्गत किया जाय कि आगामी बैठक में कृत कार्यवाही के पूर्ण विवरण के साथ उपस्थित हों। सड़क दुर्धटना में मृत्यु की दशा में शासन द्वारा संचालित योजना के तहत मुआवजा दिये जाने की स्थिति की जानकारी करने पर अवगत कराया गया कि जनपद बलिया में एसडीएम सदर के स्तर चार ऐसे मामले गत 2-3 वर्षों से लम्बित हैं, जिनमें मुआवजा दिया जाना अवशेष है। मण्डलायुक्त ने इस स्थिति पर असन्तोष व्यक्त करते हुए निर्देशित किया कि एक माह में जाॅंच पूर्ण कर इन प्रकरणों का निस्तारण सुनिश्चित किया जाय। यदि निर्धारित अवधि में निस्तारण नहीं हो पाता है तो आगामी बैठक में स्पष्टीकरण सहित प्रतिभाग करने हेतु उन्हें अवगत कराया जाय।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक यातायात सुधीर कुमार जायसवाल, उप परिवहन आयुक्त वाराणसी लक्ष्मीकान्त मिश्र, संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन) रामवृक्ष सोनकर, संभागीय परिवहन अधिकारी(प्रवर्तन) आरएन चैधरी, एआरटीओ आज़मगढ़ एसके सिंह, एआरटीओ बलिया राजेश्वर यादव, क्षेत्रीय प्रबन्धक रोडवेज अतुल त्रिपाठी, सहायक क्षेत्रीय प्रबन्धक रोडवेज ललित श्रीवास्तव, ईओ नगर पालिका डा. शुभनाथ प्रसाद सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी एवं परिवहन से सम्बन्धित संगठनों के पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment