.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: डीएम ने 50 लाख ₹ एवं अधिक लागत के निर्माण कार्यों की समीक्षा किया


शहर के आस पास की सड़कें इस माह के अन्त तक पूर्णतः गड्ढ़ामुक्त करना सुनिश्चित करें- डीएम

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कुशलगाॅव व लाटघाट के निर्माण कार्याें में अपेक्षित प्रगति नही, डीएम ने मांगा स्पष्टीकरण

आजमगढ़ 09 अक्टूबर-- जिलाधिकारी राजेश कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में 50 लाख रू0 एवं उससे अधिक लागत के अन्य निर्माण कार्य (सड़कों को छोड़कर) एवं नई सड़कों का निर्माण, चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, ओडीआर/एमडीआर/ राज्य सड़कों का निरीक्षण व सेतु निर्माण के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई।
इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा थाना रानी की सराय में 48 क्षमता का बैरक एवं 01 विवेचना कक्ष का निर्माण, थाना मेंहनाजपुर में 40 क्षमता का बैरक व 01 विवेचना कक्ष का निर्माण, वीवीपैट गोदाम का निर्माण, ईवीएम गोदाम का निर्माण, सीएचसी कुशलगाॅव व लाटघाट का निर्माण, सीएचसी लालगंज में 100 शैय्या चिकित्सालय का निर्माण, विकास खण्ड महराजगंज में भैरव बाबा स्थल का पर्यटन विकास कार्य, विकास खण्ड पल्हना के ग्राम मियापुर बासदेवा में वृहद गो संरक्षण केन्द्र का निर्माण, आवासीय तहसील मार्टीनगंज का निर्माण कार्य, पीएचसी छाऊ मुहम्मदपुर का निर्माण, राजकीय पालिटेक्निक मकराहा अतरौलिया, राजकीय पालिटेक्निक भीलीहिली में महिला छात्रावास का निर्माण, दुर्गा जी होम्योपैथिक कालेज चण्डेश्वर में पार्किंग, औषधि भण्डार, म्यूजीयम हाल व बाउण्ड्रीवाल के निर्माण कार्यों आदि की समीक्षा की गयी।
जिलाधिकारी ने उक्त निर्माण कार्याें के कार्यदायी संस्था निर्माण खण्ड-5, उ0प्र0 आवास एवं विकास परिषद, निर्माण इकाई वाराणसी-आजमगढ़, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग, यूपीआरएनएसएस आजमगढ़ को निर्देशित करते हुए कहा कि उक्त निर्माण कार्याें को दिये गये निर्धारित समय में पूर्ण करना सुनिश्चित करें। इसकी गुणवत्ता में किसी भी प्रकार का समझौता नही किया जायेगा। 
इसी के साथ ही जिलाधिकारी ने उक्त कार्यदायी संस्थाओं, जिनका परियोजना के निर्माण कार्याें का माइल स्टोन लक्ष्य के सापेक्ष पूर्ण नही है, उनको चेतावनी देने के निर्देश दिये। उन्होने यह भी निर्देश दिये कि माइल स्टोन को समय से पूर्ण करने के लिए मैनपावर बढ़ाकर निर्माण कार्याें को पूर्ण करें।
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कुशलगाॅव व लाटघाट के निर्माण कार्याें में अपेक्षित प्रगति न होने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए उ0प्र0 आवास एवं विकास परिषद के संबंधित अधिकारी को स्पष्टीकरण देने के लिए निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने उक्त समस्त संबंधित कार्यदायी संस्थाओं को निर्देश दिये कि अभी तक जिन कार्यदायी संस्थाओं द्वारा एनओसी लेने के लिए फाइल प्रस्तुत नही किया गया है, वे तत्काल फाइल प्रस्तुत करें। 
नई सड़कों का निर्माण, चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण के अन्तर्गत मोइनुद्दीनपुर पटवध मार्ग, लखनऊ-बलिया मार्ग, इलाहाबाद-जौनपुर मार्ग आदि सड़कों की समीक्षा की गयी। जिलाधिकारी ने निर्माण खण्ड-5 व 2 के एक्सीयन को निर्देश देते हुए कहा कि उक्त सड़कों को निर्धारित समय से पूर्ण कराना सुनिश्चित करें।
इसी के साथ ही जिलाधिकारी ने पीडब्ल्यूडी के एक्सीयन को निर्देश दिये कि शहर के आस पास जो सड़कें गड्ढ़ायुक्त हैं, उन्हें इस माह के अन्त तक पूर्णतः गड्ढ़ामुक्त करना सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही रेलवे ब्रिज से सर्किट हाउस मार्ग को दिसम्बर 2020 तक पूर्ण कराना सुनिश्चित करें। 
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, डीडीओ रवि शंकर राय, प्रान्तीय निर्माण खण्ड, निर्माण खण्ड-2 व 5 के एक्सीयन, डीएलसी रोशल लाल, उपायुक्त उद्योग प्रवीण कुमार मौर्य, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार मौर्य, डीपीआरओ लालजी दूबे, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य निकष सिंह, डीईएसटीओ आरडी राम, पीओ डूडा अरविन्द कुमार पाण्डेय सहित संबंधित अधिकारी व संबंधित कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।


Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment