.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: अतरौलिया थाना परिसर में हुई पीस कमेटी की बैठक


आगामी त्योहारों को देखते हुए कोविड-19 गाइड लाइन के सख्त अनुपालन के निर्देश दिए गए

आज़मगढ़: अतरौलिया: आगामी त्योहारों को देखते हुए स्थानीय थाना परिसर में शांति कमेटी की बैठक आयोजित हुई। उप जिलाधिकारी बूढ़नपुर दिनेश मिश्रा तथा क्षेत्राधिकारी बुढ़नपुर महेंद्र शुक्ला के नेतृत्व में थाना प्रभारी दिनेश कुमार यादव द्वारा थाना परिसर में माह अक्टूबर से दिसंबर 2020 तक आयोजित होने वाले प्रमुख त्योहारों दुर्गा पूजा ,बारावफात ,चेहल्लुम, दीपावली ,छठ पूजा ,कार्तिक पूर्णिमा ,दीपावली, गोवर्धन पूजा आदि को देखते हुए शांति कमेटी की बैठक बुलाई गई ,जिसमें जगह जगह प्रतिमा स्थापना, पूजा ,मेला, जागरण, सांस्कृतिक कार्यक्रम ,रैली ,जुलूस विसर्जन ,जैसी गतिविधियां संचालित होती हैं जिसमें भारी जनसमूह एकत्रित होने की संभावना रहती है । ऐसे में कोविड-19 के संक्रमण के प्रसार पर नियंत्रण के दृष्टिगत कार्यवाही सुनिश्चित की गई । जैसे कंटेंटमेंट जोन में किसी भी आयोजन की अनुमति नहीं होगी ।शारीरिक दूरी के मानक तथा अन्य उपायों का प्रत्येक समय निरीक्षण किए जाने हेतु आयोजकों द्वारा मानव शक्ति तैनात किए जाएं तथा कोविड-19 के नियमों का अनुपालन सुनिश्चित हो। आयोजकों को अपने समस्त स्टाफ के लिए मास्क, सैनिटाइजर, साबुन की पर्याप्त व्यवस्था की जाए । थर्मल स्कैनिंग के लिए वालंटियर की तैनाती की जाए ।कार्यक्रम स्थल पर दर्शकों के प्रवेश और निकासी के अलग-अलग दूरी पर रास्ते बनाए जाएं। शारीरिक दूरी तथा मास्क पहनने के मानकों के लिए निगरानी में सीसीटीवी स्थापित की जाए ।मूर्तियों की स्थापना,खुले मैदान या खाली स्थल पर ही की जाए तथा मूर्ति का आकार छोटा हो ।मैदान की क्षमता से अधिक लोग ना इकट्ठे हो ,चौराहों तथा सड़कों पर कोई मूर्ति नहीं रखी जाएगी अन्यथा कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी ।मूर्ति विसर्जन में यथासंभव छोटे वाहन, ठेला आदि का ही प्रयोग किया जाए ।विसर्जन में कम से कम व्यक्तियों की अनुमति होगी पर कोई ध्वनि विस्तारक यंत्र नहीं बजेगा ना तो कोई जुलूस निकलेगा । रामलीला बंद कमरे ,हाल जिसकी निर्धारित क्षमता 50% किंतु अधिकतम 200 व्यक्तियों तथा फेस्क मास्क, सेनेटाइजर,हैंड वॉश के साथ आयोजन स्थल पर सार्वजनिक रूप से प्रचार-प्रसार हेतु पी ए सिस्टम का उपयोग किया जाए। मेला या प्रतिमा स्थापना एवं विसर्जन के लिए तथा रैली जुलूस के लिए जनपद के नोडल अधिकारी से अनुमति लेना होगा। इस मौके पर उप जिलाधिकारी बुढ़नपुर दिनेश मिश्रा ने बताया कि आगामी बारावफ़ात व चेहल्लुम के त्यौहार व मूर्ति स्थापना अतरौलिया कस्बे में होना है। इसी क्रम में सभी को बताया गया है कि जैसे नवरात्र और दशहरा का पर्व शांतिपूर्वक संपन्न हुआ उसी तरह छोटी मूर्ति रखें ,सामाजिक दूरी बनाएं, सार्वजनिक चौराहों व सड़कों पर मूर्ति ना रखें ,निर्देशों के साथ परंपरागत त्यौहार मनाने के निर्देश दिए गए हैं। बारावफात में कोई जुलूस ना निकाले, व प्रतीकात्मक रूप से धर्म से संबंधित जो भी कार्य करने हैं उसे सामाजिक दूरी व मास्क लगाते हुए संपन्न कराएं। कहीं भी भीड़ इकट्ठा ना होने पाए। क्षेत्राधिकारी बुढ़नपुर महेंद्र शुक्ला ने बताया कि शासन द्वारा जो गाइडलाइन जारी की गई है इसकी एक एक प्रतियां सब को दे दी गई हैं। जो निर्देश है उसी अनुरूप उसका सभी लोग पालन करें ।मूर्तियों के विसर्जन में कम से कम लोग ही रहे ।जुलूस आदि ना निकाले, सामान रूप से बनाए गए गड्ढों या तालाब में मूर्ति विसर्जन करें, विसर्जन के दिन जहां पूर्व में मारपीट की घटनाएं हुई है वहां अतिरिक्त पुलिस बल लगाया जाएगा।इस मौके पर उप जिला अधिकारी दिनेश मिश्रा, क्षेत्राधिकारी महेंद्र शुक्ला, थाना प्रभारी दिनेश कुमार यादव ,सब इंस्पेक्टर रविंद्र प्रताप यादव ,प्रदीप सिंह , गोपाल जी,जितेन्द्र सिंह,का0अवनीश,अविनाश,अमित,राजन,तथा सुभाष चन्द्र जायसवाल, रामचन्द्र जायसवाल, अशफ़ाक़, दिनेश मध्येसिया,प्रधान रामचंद्र वर्मा आदि लोग मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment