.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ :सोशल मीडिया पर मिले एक सन्देश पर सक्रिय हुई पुलिस ने लापता बालक को ढूंढा

साइबर सेल ने सोशल मीडिया पर मिली बालक से सम्बन्धित जानकारी को गंभीरता से लिया -एसपी आजमगढ़ 

फूलपुर कोतवाली की पुलिस पिता के साथ पटना गयी और उसे वापस ला कर परिजनों से मिलाया,खिले चेहरे 

आजमगढ़ : फूलपुर क्षेत्र से लापता किशोर को पुलिस ने ढाई माह बाद सोशल मीडिया के माध्यम से ढूंढ़कर परिजनों से शुक्रवार को मिला दिया। किशोर को पाकर मां-पिता के साथ परिवार के लोगों के चेहरे खुशी से खिल उठे। किठावे गांव निवासी बालक शैलेश कुमार (11) पुत्र राजेश कुमार के गांव में 14 मार्च को भंडारा था। शाम को वह भंडारा में अन्य बच्चों के साथ गया तो घर नहीं लौटा। परेशान पिता ने फूलपुर कोतवाली में अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह ने बताया कि तीन जून को सोशल मीडिया सेल के पुलिस कर्मियों ने फेसबुक पर एक पोस्ट देखी, जिसमें अपील की गयी थी कि आजमगढ़ का जयहिद नाम का बालक दो माह से लाकडाउन में पटना के सेल्टर होम में रूका हुआ है। पोस्ट में मोबाइल फोन नंबर भी लिखा हुआ था। सोशल मीडिया के पुलिस कर्मियों ने जब उक्त नंबर पर बात की तो पता चला कि बालक का असली नाम शैलेश है। नाम पता ज्ञात होने के बाद किशोर का उसके पिता से तत्काल वीडियो कालिग से वार्ता करायी गयी। फूलपुर कोतवाली की पुलिस पिता के साथ पटना गयी। बालक को सकुशल साथ लेकर गुरुवार को पुलिस ले आई। बालक ने बताया कि वह खेलते हुए खोरासों रोड रेलवे स्टेशन पर पहुंचा। स्टेशन पर खड़ी ट्रेन पर चढ़ गया। ट्रेन चल पड़ी तो वह कुछ देर बाद सो गया। नींद खुली तो पटना स्टेशन पर उतर गया था। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment