.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: फिल्पकार्ट स्टोर में दिनदहाड़े हुई 06 लाख की लूट का कोतवाली पुलिस ने किया खुलासा


एडीजी ने कोतवाली प्रभारी को दी थी 15 दिन का मोहलत, 6 दिन में ही हुआ खुलासा, 03 अन्य की तलाश
कट्टा,नकदी और लूटी गई स्कैनर मशीन बरामद ,अपराधियों ने जेल में बनाई थी लूट की योजना - प्रो त्रिवेणी सिंह, एसपी 
आजमगढ़: बीते 6 फरवरी को असलहाधारी बदमाश शहर कोतवाली क्षेत्र के रोडवेज स्थित बवाली मोड़ के पास स्थित फ्लिपकार्ट स्टोर से छह लाख रुपये दिन दहाड़े लूटकर बदमाश फरार हो गए थे । बदमाशों की धरपकड़ के लिए पुलिस ने बहुत हाथ-पैर मारे लेकिन सफलता हासिल नहीं हुई थी । यह घटना शहर की सबसे चर्चित लूट बन गई जो कि पुलिस अधिकारियों के लिए सिरदर्द बन गई थी। इस लूट के मामले में एडीजी वाराणसी ने पूर्व में खुलासे का निर्देश दिया था। लेकिन सफलता नहीं मिल पाई थी । एक सप्ताह पूर्व एडीजी फिर जिले में आए और कोतवाल सहित तीन अन्य थाना निरीक्षको को चेतावनी दे दी । खासकर इस लूट को लेकर कोतवाल को एडीजी ने 15 दिनों का मोहलत दिया था। एडीजी की सख़्ती रंग लाई । एसपी के निर्देश पर शहर कोतवाल के के गुप्ता अपनी टीम के साथ इस मामले को हल करने में जुट गए थे और सफलता भी मिली। रविवार की सुबह मुखबिर से सूचना मिली कि बीते फरवरी माह में हुई फ्लिपकार्ट स्टोर से लूट का एक बदमाश संदिग्ध अवस्था में खड़ा है । आनन फानन में पुलिस ने करतालपुर में घेराबंदी कर दी तो उक्त बदमाश ने पुलिस पर फायर झोंक दिया। फिर भी पुलिस पार्टी ने प्रशिक्षित तरीके से अपना बचाव करते हुए अभियुक्त को अवैध तमंचा, कारतूस व लूट के नगद 16,500 रू/- के साथ गिरफ्तार किया। बरामद अवैध असलहे का निरीक्षण किया गया तो तमंचा 315 बोर एवं उसमें पुलिस पार्टी पर फायर किये गये कारतूस का खोखा भी मौजूद था तथा अभियुक्त के जेब से तीन अदद जिन्दा कारतुस .315 बोर भी बरामद हुआ। को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने अभियुक्त के पास लूटी गई स्कैनर मशीन भी बरामद किया है। गिरफ्तार बदमाश की पहचान बंश कुमार उर्फ कामू यादव पुत्र सुबेदार यादव निवासी कन्धरापुर (पश्चिम का पुरा) थाना कन्धरापुर निकला। लूट में शामिल रहे उसके तीन अन्य साथियों की तलाश में पुलिस जुट गई है।
जेल में बनी थी लूट की योजना - प्रो त्रिवेणी सिंह, एसपी 
एसपी ने बताया की गिरफ्तार किये गये अभियुक्त वंश कुमार से इस अपराध की घटना एवं उनकी अपराध प्रणाली के बारे में पूछताछ की गयी तो उसने बताया कि इस फ्लिपकार्ट एजेन्सी की लूट की घटना की योजना उसने तथा उसके साथियों ने जेल में रहकर बनायी थी और बाहर आने पर उसने तथा अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। अभियुक्त ने बताया कि उसके पास से बरामद असलहा लूट की घटना में प्रयुक्त किया गया था तथा बरामद नगद धन लूट में मिले उसके हिस्से (50 हजार रूपये) का ही बचा हुआ धन है। लूट में घटना स्थल से मैं एक स्कैनर भी लेकर भागा था। जिसे मैने रास्ते में झाड़ी में फेक दिया था। जिसे बरामद करा दिया हूँ। सफलता पाने वाली पुलिस टीम में कृष्ण कुमार गुप्ता प्रभारी निरीक्षक कोतवाली,संजय तिवारी, चौकी प्रभारी एलवल थाना कोतवाली, अनिल कुमार मिश्रा, चौकी प्रभारी ब्रह्मस्थान थाना कोतवाली, संजय कुमार, का0 जगदीश यादव आदि थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment