.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

दिल्ली से आजमगढ़ आने वाले कोरोना संक्रमित और परिवार के खिलाफ मुकदमा दर्ज

आरोपी ने परिवार के साथ दिल्ली और प्रदेश का बार्डर कैसे पार किया इस पर डीएम ने गृह विभाग को पत्र भेजा 

आजमगढ़ : दिल्ली की आजादपुर मंडी से कार बुक कर कोरोना पॉजिटिव मरीज के परिवार के साथ आजमगढ़ के रानी की सराय पहुंचने को जिलाधिकारी एनपी सिंह ने गंभीरता से लिया है। उनके आदेश पर शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति और परिवार के चार अन्य सदस्यों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। एसएचओ रामायण सिंह ने बताया कि तथ्य छिपाने के आरोप में इस परिवार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। साथ ही आरोपी ने परिवार के साथ दिल्ली और प्रदेश का बार्डर कैसे पार किया इस पर डीएम ने गृह विभाग को पत्र भेजा है। स्थानीय पुलिस को भी रोकटोक न करने के लिए फटकार लगाई है। बता दें जनपद में गुरुवार की सुबह पांच लोगों का एक परिवार दिल्ली से प्राइवेट गाड़ी से रानी की सराय पहुंच गया था। उस परिवार का मुखिया कोरोना संक्रमित पाया गया। हालांकि प्रदेश के विभिन्न जनपदों के ग्रीन जोन में होने से वहां वाहनों का आवागमन बिना पास के शुरू हो गया है, लेकिन राज्य बार्डर पर सख्ती के विशेष निर्देश सीएम के हैं। इसके बाद भी इस परिवार के दिल्ली और उत्तर प्रदेश के बार्डर पार करने को जिलाधिकारी एनपी सिंह ने गंभीरता से लेते हुए इस संबंध में गृह विभाग को भी पत्र भेजा गया है। उधर, एक कार में पांच लोग के आने पर भी स्थानीय पुलिस को भी टोकाटोकी नहीं उन्हें कड़ी फटकार लगाई गई है। जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना संक्रमित के गांव पहुंचने पर वहां के जागरूक प्रधान ने उन्हें घर न आने देकर प्राथमिक स्कूल में ठहराया और इसकी सूचना भी दी, इसके लिए प्रधान बधाई के पात्र हैं। सभी को इससे सीख लेनी चाहिए और अपने गांव में ऐसे संदिग्ध के दिखने पर जानकारी देनी चाहिए।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment