.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आरोग्य सेतु ऐप की डाउनलोडिंग बढ़ाने हेतु प्रतिदिन समीक्षा करें अधिकारी: मण्डलायुक्त

कतिपय विभागों के स्तर से डाउनलोडिंग बढ़ाये जाने की है अधिक गुंजाइश, लक्ष्य निर्धारित करें

समीक्षा बैठक में नहीं आये लोनिवि के अधिकारी, मुख्य अभियन्ता से स्पष्टीकरण तलब

आज़मगढ़ 14 मई -- मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने मण्डल के जनपदों में आरोग्य सेतु ऐप की डाउनलोडिंग की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया कि जिन विभागों के फील्ड वर्कर्स को ऐप की डाउनलोडिंग बढ़ाने का लक्ष्य दिया गया है उन विभागों के मण्डलीय अधिकारी नियमित रूप से उसकी समीक्षा करते हुए प्रगति के सम्बन्ध में प्रतिदिन अवगत करायें। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने वृहस्पतिवार को अपने कार्यालय के सभागार में आरोग्य सेतु एप डाउनलोडिंग में हुई प्रगति की समीक्षा के दौरान कहा कि बेसिक शिक्षा, समाज कल्याण, पंचायत राज, खाद्य आदि विभागों के माध्यम से लाउनलोडिंग बढ़ाये जाने की अधिक गुंजाइश है। उन्होंने बेसिक शिक्षा विभाग के स्तर पर आज़मगढ़ में इस ऐप की डाउनलोडिंग बहुत ही कम पाये जाने पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी आज़मगढ़ को पूरी जिम्मेदारी सौंपते हुए तत्काल इसे बढ़ाने हेतु निर्देशित किया। इस अवसर पर एडी बेसिक राजेश कुमार आर्य ने बताया कि बेसिक शिक्षा से सम्बन्धित अध्यापक एवं अन्य स्टाफ आज़मगढ़ में लगभग 15000, मऊ में 6438 एवं बलिया में 7421 हैं। उन्होने बताया कि आज़मगढ़ में प्रति शिक्षक/कर्मी 25 डानलोडिंग का, मऊ में 20 डाउनलोडिंग का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जबकि बलिया में स्थिति ठीक है। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने इस सम्बन्ध में एडी बेसिक को निर्देश दिया कि जनपदों से डाउनलोडिंग के सम्बन्ध में नियमित रूप से फीडबैक लें तथा प्रतिदिन शाम को वस्तुस्थिति से अवगत करायें। इसी प्रकार उन्होंने पंचायतीराज विभाग के स्तर से डाउनलोडिंग की स्थिति का जायजा लेते हुए उप निदेशक पंचायती राज को निर्देशित किया पंचायत सेक्रेट्री एवं सफाई कर्मियों के स्तर पर लक्ष्य निर्धारित कर आरोग्य सेतु ऐप की डाउनलोडिंग बढ़ाई जाय तथा उसकी नियमित रूप से समीक्षा भी की जाय। मण्डलायुक्त ने जनपद आज़मगढ़ में इस ऐप की अत्यन्त कम लोडिंग पर असन्तोष व्यक्त किया तथा इसके बढ़ाने हेतु बनाई गयी कार्ययोजना के सम्बन्ध में मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला से विस्तार से जानकारी लिया तथा कहा कि जब तक फील्ड वर्कर्स को सौंपी गयी जिम्मेदारियों की दिन प्रतिदिन समीक्षा नहीं होगी तब तक अपेक्षानुसार प्रगति लाना संभव नहीं होगा, इसलिए नियमित फीडबैक लेना जरूरी है। समीक्षा बैठक में लोक निर्माण विभाग के अधिकारी के अनुपस्थित रहने पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए मुख्य अभियन्ता, लोनिवि को इस सम्बन्ध में स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया।
मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने कहा कि मण्डल के जनपदों विशेष रूप से आज़मगढ़ में डाउनलोडिंग कम होने के कारण राज्य स्तर पर मण्डल की स्थिति भी सन्तोषजनक नहीं है। उन्होंने उप निदेशक पंचायत एवं एडी बेसिक के साथ ही समस्त मण्डलीय अधिकारियों को डाउनलोडिंग की जिम्मेदारी सौंपते हुए निर्देशित किया कि जनपदीय अधिकारियों के माध्यम से दो दिन के अन्दर डाउनलोडिंग में अपेक्षानुसार प्रगति लाई जाय। उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को स्कूल मैनेजर एवं प्रिन्सिपल स्तर से सहयोग लेकर डानलोडिंग बढ़ाये जाने की हिदायत दी। मण्डलायुक्त ने कहा कि जिन कर्मचारियों के पास एण्ड्रायड मोबाइल नहीं है उनके परिवार के उन सदस्यों से इस ऐप को डाउनलोड करायें जिनके पास एण्ड्रायड मोबाइल है। इसी क्रम में उन्होंने सहायक आयुक्त खाद्य को निर्देशित किया कि यद्यपि कि लाकडाउन के कारण खाद्य प्रतिष्ठान बन्द हैं, फिर भी फोन के माध्यम से सम्पर्क कर प्रतिष्ठान मालिकों एवं कर्मचारियों से आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड करायें। उन्होंने यह भी कहा कि यदि डाउनलोडिंग नहीं बढ़ती है इसके लिए मण्डलीय अधिकारी जिम्मेदार माने जायंेगे।
इस अवसर पर अपर आयुक्त (प्रशासन) अनिल कुमार मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी आज़मगढ़ आनन्द कुमार शुक्ला, संयुक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा एपी वर्मा, संयुक्त कृषि निदेशक एसके सिंह, उप निदेशक पंचायत राम जियावन, उपायुक्त खाद्य केपी मिश्र, सहायक आयुक्त खाद्य विनीत पाण्डेय, अधीक्षण अभियन्ता जल निग, अधीक्षण अभियन्ता ग्रामीण अभियन्त्रण सहित अन्य विभागों के मण्डलीय अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment