.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना लागू,शिक्षित युवा बेरोजगारों को मिलेगा विशेष लोन

शिक्षित युवा बेरोजगारों को उद्योग क्षेत्र में 25.00 लाख तक की परियोजना एवं सेवा क्षेत्र में 10 लाख तक की परियोजना लागत की इकाईयों को ऋण प्रदान किया जायेगा

आजमगढ़ 19 मई-- उपायुक्त उद्योग प्रवीण कुमार मौर्य ने बताया है कि मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना लागू की गयी है, जिसके अन्तर्गत जनपद के शिक्षित युवा बेरोजगारों को उद्योग क्षेत्र में 25.00 लाख तक की परियोजना एवं सेवा क्षेत्र में 10 लाख तक की परियोजना लागत की इकाईयों को ऋण प्रदान किया जायेगा। जिससे परियोजना लागत का 25 प्रतिशत मार्जिनमनी उपलब्ध कराया जायेगा, जो उद्यम के 02 वर्ष तक सफल संचालन के उपरान्त अनुदान में परिवर्तित हो जायेगा। सामान्य श्रेणी के लाभार्थियों द्वारा परियोजना लागत का 10 प्रतिशत एवं अनुसूचित जाति एवं जनजाति/ अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक महिला एवं विकलांग अभ्यर्थी को 5 प्रतिशत अंशदान जमा करना होगा।
उक्त योजना हेतु आवेदक की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच एवं न्यूनतम शैक्षिक योग्यता हाईस्कूल अथवा समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण हो तथा किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक/वित्तीय संस्था/सरकारी संस्था आदि का डिफाल्टर नही होना चाहिए। आवेदक द्वारा पूर्व में संचालित प्रधानमंत्री रोजगार योजना, वर्तमान में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना, मुख्यमंत्री रोजगार योजना अथवा राज्य सरकार द्वारा संचालित किसी अन्य स्वरोजगार योजनान्तर्गत लाभ न प्राप्त किया गया हो। शासन की मंशा के अनुसार अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करने हेतु कम धनराशि की परियोजना को वरीयता दी जाएगी। इसके अतिरिक्त एक जनपद एक उत्पाद में जिले हेतु चयनित उत्पाद ब्लैक पाटरी के उद्योग को वरीयता दिया जाना है। साथ ही महिला उद्यमी एवं अनु0 जाति के लाभार्थियों को चयन में वरीयता दी जाएगी।
उक्त योजना में वित्तीय वर्ष 2020-21 में लक्ष्य की पूर्ति होने तक www.diupmsme.upsdc.gov.in पर आनलाइन आवेदन स्वीकार किये जायेगें। विस्तृत जानकारी हेतु उपायुक्त उद्योग, जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केन्द्र, आजमगढ़ से किसी भी कार्य दिवस में कार्यालय से सम्पर्क किया जा सकता है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment