.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमग़ढ़: बरदह क्षेत्र में हुई थी शादी, राजस्थान में नवदम्पति मिले कोरोना पॉजिटिव

पुलिस व स्वास्थ्य विभाग टीम पहुंची गांव में, पूरी बस्ती को किया सील

परिवार को भेजा गया मिनी पीजीआई, गांव में दहशत का माहौल

आजमगढ़ : बरदह थाना क्षेत्र के एक गांव में बीते 23 मार्च को लॉक डाउन होने के ठीक पहले अनुसूचित बिरादरी में सामान्य रूप से एक शादी हुई थी। इसके बाद दामाद लॉक डाउन के चलते ससुराल में ही रुक गया फिर कुछ दिनों बाद वह अपनी पत्नी को लेकर किसी तरह 14 अप्रैल को राजस्थान के लिए निकला 18 अप्रैल को वहां सीमा पर सुरक्षाकर्मी मेडिकल चेकअप करने लगे तो दोनों को कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया । जब पूछताछ में पता चला दोनों शादी करके आजमग़ढ़ के गांव से आये हैं तो वहां के हनुमानगढ़ तहसीलदार द्वारा ग्राम प्रधान को इसकी सूचना दी गई कि आपके गांव के कोरोना पॉजिटिव पति-पत्नी मिले हैं इस लिए गांव में भी संक्रमण की शंका हो रही है इसलिए वहां पर प्रशासन स्वास्थ विभाग को सूचना देकर इलाज कराया जाए । प्रधान द्वारा थानाध्यक्ष को सूचना दी गई तब गांव में स्वास्थ्य विभाग टीम ने पहुंचकर पूरे परिवार को चक्रपानपुर मिनी पीजीआई भेज दिया । स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूरे  बस्ती को सील किया गया । गांव में इसे लेकर दहशत का माहौल है। जानकारी के अनुसार क्षेत्र के छत्तरपुर गांव निवासी युवती (18) की शादी राजस्थान के गंगापुर जनपद हनुमानगढ़ तहसील क्षेत्र के एक गांव निवासी युवक से हुईं। जो लाकडाउन होने के चलते ससुराल में ही रुक था। बाद में किसी तरह पत्नी को लेकर राजस्थान पहुंचा वहां पर सीमा पर ही सुरक्षा और स्वास्थ्य कर्मी रोक लिए और जब मेडिकल चेकअप किया गया तो दोनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए जब प्रशासन ने पूरी जानकारी ली तो दोनों ने बताया की वह आजमगढ़ जनपद के बरदह क्षेत्र से आए हैं जहां उनकी शादी हुई है जिसमें कुछ लोग सम्मिलित भी हुए थे । यह सुनते ही गंगापुर जनपद हनुमानगढ़ तहसीलदार ने तत्काल फोन गांव के ग्राम प्रधान को किया और बताया गांव से दो पति पत्नी यहां आए हैं जिनकी वहां शादी हुई है दोनों कोरोना वायरस पॉजिटीव है तत्काल वहां के पुलिस प्रशासन स्वास्थ्य विभाग को जानकारी देकर गांव में जांच कराई जाए ताकि किसी तरह कोरोना का खतरा ना होने पाए । ग्राम प्रधान ने थानाध्यक्ष नंद कुमार तिवारी व स्वास्थ्य विभाग को फोन कर सूचना दी 22 अप्रैल की शाम स्वास्थ्य विभाग पुलिस टीम गांव में पहुंची जांच कर वापस चली आई फिर दूसरे दिन 23 अप्रैल को थानाध्यक्ष, ठेकमा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा प्रभारी डॉ रमेश सोनकर टीम के साथ पहुंचे  युवती की माता  समेत पूरे परिवार को चक्रपानपुर मिनी पीजीआई मेडिकल चेकअप के लिए भेजा गया और पूरे बस्ती को सील कर दिया गया । युवक ससुराल में शादी के बाद से ही रह रहा था अगर सही तरह जांच नहीं हुई तो हो सकता है गांव में काफी लोगों को बड़ी मुसीबत का सामना करना पड़े । वही ठेकमा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ रमेश सोनकर ने बताया गांव में जाकर पूरे परिवार को आजमगढ़ पीजीआई में आइसोलेशन में भेजा गया है दो-तीन दिन में जांच कर रिपोर्ट आ जाएगी तो स्थिति स्पष्ट हो जाएगी वहीं पूरे बस्ती को सील कर दिया गया हैं । गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम लगी हुई है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment