.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : जनसेवा केन्द्र संचालक से लूट का पुलिस ने किया खुलासा, 05 गिरफ्तार

18 मार्च को जनसेवा केंद्र संचालक से हुई थी लगभग 04 लाख की लूट, 03 लाख 10 हजार बरामद 

आजमगढ़ : बिलरियागंज थाना पुलिस ने विगत 18 मार्च को जनसेवा केंद्र के संचालक से हुई लगभग चार लाख की लूट का पर्दाफाश कर दिया। श्री हरिकेश यादव पुत्र श्री धन्नू यादव सा0 नौबरार तिरूपुरार खालसा (सहदेवगंज) थाना महराजंगज, जनपद आजमगढ़ द्वारा थाना पर उपस्थित आकर लिखित सूचना दिया कि समय करीब 3.00 बजे दिन में सदगुरू पेट्रोल पम्प से अपने जनसेवा केन्द्र के लिए 3,86,290/-(तीन लाख छियासी हजार दो सौ नब्बे) रूपये लेकर जा रहा था कि तेनुआ सरदहा रोड पर तीन अज्ञात मोटर साइकिल सवार द्वारा तमंचा दिखाकर रूपयो से भरा बैग छिन कर भाग गये। इस सूचना पर थाना पर दिनांक 18.03.2020 को मु0अ0सं0 39/2020 धारा 392 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया था ।
पुलिस अधीक्षक आजमगढ़ प्रो0 त्रिवेणी सिंह के निर्देशपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण व क्षेत्राधिकारी सगड़ी के नेतृत्व में गठित टीम मय फोर्स के महाअभियान के तहत घटना के अनावरण व तलाश वांछित अपराधी में जुटी थी। गुरुवार को बिलरियागंज मनोज सिंह अपने दल के साथ क्षेत्र में मौजूद थे की मुखबीर से आवश्यक सूचना मिली जिस पर विश्वास करके ग्राम पटबध पावर हाऊस के पास छापा मारा गया तो अचानक पुलिस बल को देखकर दो व्यक्तियों द्वारा गाली देते हुए लक्ष्य बनाकर जान से मारने के नियत से फायर किये। पुलिस दल द्वारा बचते बचाते हुए एक बारगी दबिश देकर घेर घारकर बदमाशो को पकड़ लिया गया। पकड़े गये अभियुक्तो से नाम पता पूछते हुए जामा तलाशी ली गयी तो उन्होंने क्रमशः अपना नाम आशीष पासवान पुत्र रामअजोर पासवान निवासी ग्राम खरगपुर थाना कन्धरापुर , आनन्द सरोज पुत्र दिनेश सरोज कुर्थीपुर थाना बिलरियागंज, लक्ष्मण पासवान पुत्र नागेन्द्र पासवान निवासी ग्राम चन्दापार थाना रौनापार, रामेश्वर यादव उर्फ टैगू पुत्र हरिवंश यादव निवासी ग्राम डुढीडीहा थाना बिलरियागंज, बृजेश पासवान उर्फ सोनू पुत्र हौसल पासवान निवासी ग्राम खरगपुर थाना कन्धरापुर जनपद आजमगढ़ पता चला। पकड़े गये अभियुक्तों के कब्जे से लूट के 3,10,30/- (तीन लाख दस हजार तीस रूपये) नगद, एक अदद बैंग जनसेवा केन्द्र का, घटना में प्रयुक्त दो अदद मोटर साइकिल सम्बन्धित मु0अ0सं0 39/2020 धारा 392 भादवि जिसमें 05 से अधिक अभियुक्त होने के कारण धारा 392 भादवि का लोप करते हुए धारा 395/412 भादवि की बढ़ोत्तरी की गयी। तथा दो अदद तमंचा 315 बोर दो अदद जिन्दा कारतूस 315 बोर, दो अदद फायर शुदा कारतूस 315 बोर, 4 अदद मोबाइल बरामद कर मुकदमा पंजीकृत करते हे अभियुक्त गण को जेल भेजा गया ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment