.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: अभया महिला सम्मान समारोह में डीएम ने दर्जनों महिलाओं को सम्मानित किया


स्त्रियाँ सृष्टि की निर्माता हैं, इनके सृजन की कोई सीमा नहीं है, इनका सम्मान होना चाहिए- जिलाधिकारी 

आजमगढ़: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर रविवार को नरौली स्थित मिशन अस्पताल के सामने पालीवाल गेस्ट हाउस में अभया महिला सेवा संस्थान की ओर से अभया महिला सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह ने दर्जनों महिलाओं को सम्मानित किया। वहीं कार्यक्रम में राहुल चिल्ड्रेन अकादमी की छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी नागेंन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि महिलाएं ज्यादा काम करती है और सबसे ज्यादा सुनती हैं कि करती क्या हो। यदि इनके श्रम का मूल्य तय किया जाए तो क्लास वन के अधिकारी का वेतन भी कम पड़ जाएगा। उन्होंने महिलाओं को विनम्र और रचनाशील बताते हुए कहा कि स्त्रियाँ सृष्टि की निर्माता हैं, इनके सृजन की कोई सीमा नहीं है, इनका सम्मान होना चाहिए।
कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलापंचायत अध्यक्ष श्रीमती मीरा यादव ने किया। कहा कि अभी भी स्त्रियों को समाज में समानता का अधिकार मिलना शेष है। कार्यक्रम में जिलाधिकारी ने दिव्यांग अंकिता कुमारी, सरोज गिरी और विभा गोयल को विशिष्ट सम्मान से सम्मानित किया। वहीं डीएम ने विरांगना एवं महिला मंडल को सराहनीय कार्यों के लिए पौधा सहित स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।
संस्था सचिव अनामिका सिंह पालीवाल ने सभी का स्वागत किया। कहा कि आठ मार्च को दुनिया भर में सेलीब्रेट किए जाने वाले महिला दिवस को महिला सशक्तिकरण के सबसे अहम दिन के तौर पर याद किया जाता है। यह दिन महिलाओं द्वारा घर और समाज के प्रति किए गए त्याग, बलिदान को याद दिलाता है। साथ ही उनके प्रेम और समाज में उनके महत्व को याद करने का सबसे खास दिन है। महिलाएं घर और बच्चे सम्भालें या सेना में कमांडर बनकर युद्ध लड़ें या फिर मल्टीनेशनल कंपनी की टॉप लीडर बनकर सबसे बड़े फैसले लें, नारी हर वो काम कर सकती है, जो पुरुष करते हैं। कई बार महिलाएं पुरुषों से आगे बढ़कर काम करने की अपनी सुपर पॉवर सबको दिखा चुकी हैं। हर काम में उनके महत्व को बरसों तक इग्नोर किया गया, लेकिन अब दुनिया उनको आगे बढ़कर महत्व दे रही है।
इस दौरान महिला सशक्तिकरण पर राहुल चिल्ड्रेन अकादमी स्कूल की बच्चियों ने नृत्य नाटिका सहित अन्य कार्यक्रम प्रस्तुत किया। कार्यक्रम को मीनू राय, माधुरी दुबे, प्रतिमा सिंह, माला द्विवेदी जी ने अपने विचार रखे। संचालन डा. प्रतिभा सिंह एवं डा. सोनी पाण्डेय ने किया और आभार ज्ञापन संस्था अध्यक्ष गंगा मिश्रा ने किया। इस मौके पर अनीता सिंह, संध्या राय, अलका आस्थाना, वैशाली, गीता, रीमा पाण्डेय, प्रतिमा पाण्डेय, सुनीता वर्मा, अरूंधती सिंह, अलका श्रीवास्तव, अरूणिमा, पूनम श्रीवास्तव, मंजू श्रीवास्तव, कंचन, गुड्डी, अनीता सिंह, प्रियंका वर्मा, निहारिका, सारिका सिंह, रेनू श्रीवास्तव आदि संस्था की सदस्य सहित अन्य महिलाएं उपस्थित रहीं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment