.

.

.

.

.

.
.

सिस्टम से मिली भगत कर विदेशी नागरिकों का फर्जी भारतीय पासपोर्ट बनवाता था साहबे आलम

आजमगढ़ के पते पर भारतीय पासपोर्ट बनवा चुका एक अफगानिस्तानी और हुआ गिरफ्तार

साहबे आलम ने जुगाड़ से दोनों अफगानी नागरिकों के लिए फूलपुर के पते से भारतीय पासपोर्ट के लिए अपनाई  प्रक्रिया  ,भट्ठा मजदूरों के दस्तावेज लगाए थे, सभी संस्थाओं से मिल गई थी हरी झंडी 

आजमगढ़ : फ़र्ज़ी पासपोर्ट और वीजा दस्तावेजों का मामला जिले में नया नहीं है पर पिछले 03 दिनों के भीतर आजमगढ़ से सम्बन्धित एक मामले ने सुरक्षा एजेंसियों को सक्रिय कर दिया है। मामले में आजमगढ़ का फूलपुर क्षेत्र सुर्ख़ियों में है जहाँ एक अफगानी युवक को तो फ़र्ज़ी दस्तावेजों के आधार पर भारतीय पासपोर्ट हासिल हो गया वहीँ दूसरा भी ऐसे ही पासपोर्ट हासिल करने वाला था। इन दोनों के साथ ही पूरा फर्जीवाड़ा करने वाला फूलपुर निवासी साहबे आलम अब सलाखों के पीछे है। लेकिन इस घटना ने जिले में पासपोर्ट ही नहीं नागरिक पहचान से सम्बन्धित विभिन्न विभागों के भ्रस्टाचार पर ऊँगली उठा दी है। वाराणसी के क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय से पकडे गए अफगानी युवक के तार आजमगढ़ के फूलपुर क्षेत्र से जुड़ते ही पुलिस अधीक्षक आजमगढ़ प्रो0 त्रिवेणी सिंह ने फूलपुर थाना पुलिस को तत्काल कार्यवाही का निर्देश दिया था। जिसके क्रम में चमराडीह थाना फूलपुर आजमगढ़ के साहबे आलम के साथ पहले देखा गया है और साहबे आलम अभी कल ही पुलिस किसी विदेशी नागरिक का फर्जी पासपोर्ट बनवाने के सिलसिले फूलपुर थाना पुलिस सक्रिय थी इसी दौरान मुखबिर ने क्षेत्र में एक विदेशी नागरिक के होने की सूचना दी उसने बताया कि उक्त विदेशी नागरीक का भी फर्जी पासपोर्ट स्थानीय निवासी साहबे आलम द्वारा बनाया गया है और यह व्यक्ति पासपोर्ट व वीजा लेने के चक्कर में यहाँ घूम रहा है यदि आप इसे पकड़ कर पुछताछ करे तो फर्जी पासपोर्ट बनवाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ हो जायेगा। इस सूचना पर विश्वास करके पुलिस टीम ने उक्त व्यक्ति के नजदीक पहुंच कर रोका व टोका गया तो टुटी फुटी हिन्दी भाषा बोल रहा जब नाम पुछा गया तो अपना नाम मोहम्मद ताहिर आलम पुत्र मोबीनुद्दीन निवासी चमराडीह थाना फूलपुर आजमगढ़ बताया तथा कड़ाई से पुछने पर अपना असली नाम किरामत उल्ला अहमद जई पुत्र बाज मोहम्मद अहमद जई निवासी लोगर सेन्टर जिला कोलेआलम प्रोविन्स लोगर अफगानीस्तान बताया तथा यह भी बताया कि साहबे आलम पुत्र फैजान अहमद निवासी ग्राम चमराडीह थाना फूलपुर जनपद आजमगढ़ उ0प्0 इण्डिया नें मुझे व मेरे एक साथी आविद अब्दुला पुत्र अवल खान निवासी ग्राम सलामखेर जिला एवदवा गर्दिश अफगानीस्तान का इण्डिया के पते से पास पोर्ट बनवाने हेतु बुलवाया था और साहबे आलम नें हम दोनो नें मिलकर मेरे साथी आविद अब्दुल्ला का आधार कार्ड व वोटर कार्ड निवास प्रमाण पत्र व नोटरी आदि फर्जी रूप से निजामाबाद तहसील के पास एक दुकान से बनवाया था जिसमें मेरा नाम मोहम्मद ताहिर आलम पुत्र मबीनुद्दीन निवासी ग्राम चमराडीह थाना फूलपुर जनपद आजमगढ़ के नाम से मेरा फोटो लगाकर मेरी सहमति से ग्राम पंचायत चमराडीह का निवास प्रमाण पत्र आधार कार्ड व नोटरी शपथ पत्र बनवाकर आवेदन कराकर मेरा पासपोर्ट बनवा दिया है जिसे फूलपुर बाजार में एक दुकान पर साहबे आलम नें वीज़ा बनवाने के लिए दे रखा है। उसी वीजा को लेने के चक्कर में आज हम ग्राम चमराडीह में साहबे आलम के घर कलकता से आकर गये थे तो पता चला की साहबे आलम व मेरे साथी आविद अब्दुल्लाह को पुलिस पकड़ ली है और सही बात यह है कि हम तोनो मिलकर आविद अब्दुल्ला का भी इण्डिया के पत्ते पर फर्जी पासपोर्ट बनवाने के लिए आविद अब्दुल्ला का फोटो लगवाकर मोहम्मद जावेद पुत्र लौटू निवासी चमराडीह थाना फूलपुर जनपद आजमगढ़ के पते से मतदाता पहचान पत्र आधार कार्ड निजामबाद तहसील के पासएक दुकान से बनवाया है और पासपोर्ट के आवेदन किया है । इस काम के लिए मैने साहबे आलम को 25000/- रूपया व मेरे साथी आविद अब्दुल्ला नें 20000/- रूपया दिया है क्योकि अफगानिस्तान से बाहर सऊदी अरब ,कुबैत आदि देशो में जाने हेतु पासपोर्ट वीजा नही बनता है इसी लिए मै तीन चार महीने से साहबे आलम के सम्पर्क में आकर शाहगंज में करीब दो माह व कलकत्ता में करीब एक माह किराये का कमरा लेकर रह रहा था। हम लोगो को अलग अलग रखवाया गया था। उक्त व्यक्ति की तलाशी ली गयी तो उसके पास से एक अदद मोबाइल आई फोन रंग सिलवर कलर व निवास प्रमाण पत्र ग्राम पंचायत चमराडीह मो0 ताहिर आलम पुत्र मोबीनुद्दीन ग्नाम चमराडीह पो0 मुड़ियार तहसील निजामाबाद थाना फूलपुर आजमगढ़ जिस पर जन्म तिथि 01.01.1993 व ग्राम प्रधान का हस्ताक्षर अमृता व मोहर अस्पष्ट फोटो सहित मिला। एक अदद फोटो प्रति आधार कार्ड नं0 281771828506 की छाया प्रति जिस पर मोहम्मद ताहिर आलम जन्म तिथि 01.01.1993 पिता का नाम मोबीनुद्दीन निवासी चमराडीह पो0 मुड़ियार फूलपुर उ0प्र0 अंकित है तथा धुधली फोटो व 10 रूपये के स्टाम्प जिसमें पकड़े गये व्यक्ति द्वारा अपने सही पासपोर्ट की फोटो प्रति बताया गया। संदिग्ध व्यक्ति से प्रपत्रो की जाँच किया गया तो सभी दस्तावेज फर्जी व कुटरचित का दिखाया जो सभी प्रपत्र व प्रपत्रो को पुलिस कब्जा में व तथा उक्त व्यक्ति को पुलिस अभिरक्षामें लिया गया तथा सभी को साथ लेकर ग्राम चमराडीह आकर उक्त व्यक्ति की पहचान कराई गयी तो लोगो ने पहचानने से इन्कार कर दिया ताहिर नाम के व्यक्ति की तलाश किया गया तो एक व्यक्ति मिला जिसने अपना नाम ताहिर पुत्र मोबीन निवासी ग्राम चमराडीह थाना फूलपुर जनपद आजमगढ़ बताया तथा मांगने पर अपनी पहचान के लिए आधार और राशन कार्ड दिखलाया। वहीँ बनारस से गिरफ्तार आबिद अब्दुला ने किसी मोहम्मद जावेद के नाम पता से इण्डियन पासपोर्ट बनवाने की जुगत लगाईं थी। ये सभी मिलकर फर्जी तरीके से कुवैत व सउदी में जाकर रूपया कमाने के लिए किये है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment