.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: बदलाव लाने के लिए सामूहिक बल की आवश्यकता होती है - एन पी सिंह , डीएम


देश को अगर बदला जा सकता है तो यह गांधी के विचारों के आधार पर ही सम्भव है - प्रो0 त्रिवेणी सिंह , एसपी

परिवर्तन सेवा संस्थान गांधीगिरी टीम का वार्षिक सम्मान समारोह एवं जल व जीवन विषयक विचार गोष्ठी आयोजित हुई 

आजमगढ़। परिवर्तन सेवा संस्थान गांधीगिरी टीम की ओर से वार्षिक सम्मान समारोह एवं जल व
जीवन विषयक विचार गोष्ठी का आयोजन नगर के रोडवेज समीप श्री साईं होटल के सभागार में सम्पन्न हुआ। समारोह का शुभारंभ डीएम नागेन्द्र प्रसाद सिंह द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया। समारोह में जिलाधिकारी, एसपी, सीएमओ, आल इंडिया रोटी बैंक ट्रस्ट वाराणसी, गीता ट्रस्ट वाराणसी सहित सामाजिक संगठनों को पौधा और प्रशस्ति देकर सम्मानित गया।
संगोष्ठी को संबोधित करते हुए डीएम नागेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि आजकल चन्द्रमा पर भी जल की खोज की जा रही है इसलिए रहिमन पानी राखिये बिन पानी सब सून, पानी गये न उबरे मोती मानुष चूर के जरिये लोगों का ध्यान आकृष्ट कराया। उन्होंने गतिशील सौरमंडल को नजीर प्रस्तुत करते हुए ब्रह्मांड की एक-एक गतिविधियों के लिए सामूहिक परिवर्तन को महत्वपूर्ण बताया है। उसी आधार पर अगर कोई व्यक्ति अकेला चाहता हो कि वह बदलाव लायेगा तो वह संभव नहीं है, बदलाव लाने के लिए सामूहिक बल की आवश्यकता होती है। सामूहिक चेतना, प्रवाह की आवश्यकता होती है। हाइड्रोजन, आक्सीजन का एक यौगिक हो सकता है लेकिन वह जल कभी कहलायेगा जब उसमे जलजला हो। परिवर्तन सेवा संस्थान तीनों शब्द ही प्रेरणादायी है, इसके लिए स्वविवेक से काम करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि लोग राजा बनना चाहते है, उनको श्रीराम जी से प्रेरणा लेकर आगे बढ़ना चाहिए।
एसपी प्रो त्रिवेणी सिंह ने कहा कि आज के युवाओं के विचार में गांधीगिरी का होना आवश्यक है, देश को अगर बदलने का प्रयास किया जा सकता है तो गांधी के विचारों के आधार पर ही यह संभव है। वहीं देश पर जो सबसे बड़ा वार होने वाला है वह साइबर वार होने वाला है। जिसके बारे में लोगों को अभी से जागरूक और सचेत होने की जरूरत है। लोगों को समझाने की आवश्यकता है कि सोशल साइट यूज करते हुए वक्त, बैंक एकाउंट से पेमेंट पर कई सर्तकता रखनी होगी। तभी हम इस वार से बच सकते है।
परिवर्तन सेवा संस्थान गांधीगीरी टीम ने जिलाधिकारी को अंग वस्त्र व स्मृति चिन्ह व साइबर क्राइम पर विशेष कार्य हेतु एसपी प्रो त्रिवेणी सिंह को प्रशस्ती पत्र देकर सम्मानित किया गया। वहीं मिर्जापुर से आयी हुई प्रज्ञा मिश्रा, समीक्षा मिश्रा, गीता देवी ट्रस्ट, ऑल इंडिया ट्रस्ट रोटी बैंक वाराणसी को भी सम्मानित किया गया। आजमगढ़ से नारी शक्ति संस्थान, स्वाभिमान मंच, भारत रक्षा दल, प्रयास सामाजिक संगठन, पूर्वांचल विकास आंदोलन, तमसा परिवार, वीरांगना, श्री रामानंद सरस्वती पुस्तकालय आदि संगठनों को भी पौधा और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इसके अलावा डा शारदा सिंह को संस्थान के पदाधिकारियों द्वारा व संरक्षक नित्यानंद मिश्रा, वरुण पाठक द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। वहीं जनपद के गायक, रंजन राय, रजनीश राय, अभिषेक उपाध्याय, विवेक सिंह, आनंद चतुर्वेदी, हरीश पाठक, आनन्द, विशाल सिंह, संतोष मिश्रा आदि को सम्मानित किया गया।
अध्यक्षीय संबोधन में डा शारदा सिंह ने गांधी के विचारों को आत्मसात करते हुए आमजन को जागरूक करने के लिए गांधीगिरी टीम की सराहना किया।
अंत में सभी आगंतुकों के प्रति आभार जताते हुए परिवर्तन सेवा संस्थान के सचिव विवेक पांडेय ने कहा कि समाज के प्रति जो हम युवाओ का दायित्व है उसका निर्वहन गांधीगिरी टीम करती रहेगी और जल संचयन की मुहिम को व्यापक स्तर पर जागरूकता अभियान चलता रहेगा। संचालन अखंड दुबे ने किया।
कार्यक्रम को सफल बनाने में ऋषभ उपाध्याय, घनश्याम गुप्ता, सौरभ पंडित, अभिषेक मौर्य, आनंद पांडे, प्रशान्त सिंह, पंकज सोनकर, आदि का विशेष सहयोग रहा। इस अवसर पर भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment