.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: पूर्व सांसद रामकृष्ण यादव एडवोकेट का निधन

1989 में  बसपा के टिकट पर आजमगढ़ सीट से सांसद बने थे स्व0 रामकृष्ण यादव  

आजमगढ़: जिले के पूर्व सांसद रामकृष्ण यादव एडवोकेट का शनिवार को दोपहर दो बजे लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान लखनऊ में देहांत हो गया। 84 वर्ष की अवस्था में पूर्व सांसद पिछले 15 दिनों से बीमारी हालत में अस्पताल में भर्ती थे।
पूर्व सांसद रामकृष्ण यादव फूलपुर तहसील के आंधीपुर गांव के निवासी थे। उन्होंने वकालत के साथ-साथ कप्युनिस्ट पार्टी से राजनीति की शुरूआत की थी। बाद में कांशीराम की नीतियों से प्रभावित होकर 80 के दशक में बसपा की राजनीति में सक्रिय हो गए । वह 1989 में पहली बार बसपा के टिकट पर आजमगढ़ सीट से सांसद बने। फिर बसपा से ही वर्ष 1991 और 1996 में भी आजमगढ़ लोकसभा सीट से चुनाव लड़े,मगर हार गए। बाद में कुछ दिक्कतों के कारण वे बसपा छोड़ कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। वर्ष 2002 में उन्होंने सपा के टिकट पर फूलपुर विधानसभा से विधायकी का चुनाव लड़ा,लेकिन इस बार भी चुनाव हार गए। इसके बाद भी सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के साथ पूरी ईमानदारी के साथ खड़े रहे। प्रदेश में वर्ष 2014 में अखिलेश यादव की सरकार बनने पर रामकृष्ण यादव उत्तर प्रदेश गन्ना शोध परिषद के उपाध्यक्ष मनोनीत किए गए। स्व. रामकृष्ण यादव के पास दो पुत्र मनोज यादव, अजय यादव हैं। निधन की खबर सुनते ही परिजनों और शुभचिंतकों में शोक की लहर व्याप्त है । 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment