.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

बहुजन समाज पार्टी ने डा0 भीम राव अम्बेडकर का 64वां परिनिर्वाण दिवस मनाया

बाबा साहब ने घोर अन्याय, अपमान को सहकर हम सभी को न्याय और सम्मान संविधान के माध्यम से दिया -  डा0 बलिराम, पूर्व सांसद

आजमगढ़। बहुजन समाज पार्टी के तत्वावधान में बोधिसत्व बाबा साहब डा0 भीम राव अम्बेडकर का 64वां परिनिर्वाण दिवस नगर के नेहरू हाल के सभागार में मनाया गया। सर्वप्रथम बाबा साहब की प्रतिमा पर बसपाजनों द्वारा श्रद्धासुमन अर्पित किया गया। इसके बाद एक विचार गाष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी में मुख्य अतिथि पूर्व सांसद डा0 बलिराम ,सेक्टर प्रभारी आजमगढ़, गोरखपुर वाराणसी व बस्ती रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता संगीता आजाद सांसद लालगंज व संचालन श्री विनोद चौहान ने किया।
विचार गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि डा0 बलिराम ने बताया कि बाबा साहब ने घोर अन्याय, अपमान को सहकर हम सभी को न्याय, सम्मान संविधान के माध्यम से दिया। सामाजिक, आर्थिक गैर बराबरी को बाबा साहब खत्म करना चाहते थे किन्तु उसे पूरा नहीं कर पाये। उनके परिनिर्वाण के बाद मा. कांशीराम ने इसे पूरा किया। बाबा साहब ने कहा था कि राजनैतिक सत्ता वह चाभी है जिससे हर सामाजिक ताले खोले जा सकते है। बाबा साहब को जब संविधान बनाने का मौका मिला तब बाबा साहब ने आर्टिकिल 340 के तहत पिछड़े समाज को आरक्षण देने का काम किया। बाबा साहब सामाजिक क्रांति के अग्रदूत थे। सामाजिक समता कायम करने का प्रयास किये। आज इस देश में बहुजन समाज की सरकार बनाने की जरूरत हैं जिससे हर व्यक्ति का हक-अधिकार मिल जाय।
अपने अध्यक्षीय विचार गोष्ठी में सांसद संगीता आजाद ने बताया कि बाबा साहब ने एक सुन्दर संविधान दिया। जिससे हम सबको समानता के रूप में जीने का हक है। आज हम सब संकल्प ले कि बाबा साहब के बताये हुए रास्ते पर चलकर उनके मिशन का आगे बढ़ाते हुए सत्ता की चाबी प्राप्त करें।
पूर्व मंत्री चन्द्रदेव राम यादव उर्फ करैली ने कहा कि आज बाबा साहब परिनिर्वाण दिवस सभी लोग जानते व मानते भी है। जो जुल्म ज्यादतीय हम लोगों पर हुई है और हो रही है, वह सिर्फ मनुस्मृति द्वारा संभव हुई है। जब बाबा साहब द्वारा रचित संविधान लागू हुआ तब जाकर हमें राहत मिली। आज भाजपा शासन में दलित, पिछड़ों मुस्लिमों को नौकरियों से वंचित किया जा रहा है। रामराज्य के बहाने इस देश में सामंतवाद लादा जा रहा है।
विधायक आजाद अरिमर्दन उर्फ पप्पू ने कहा कि बाबा साहब ने हमें विपरित परिस्थितियों में एक पवित्र संविधान दिया किन्तु 70 वर्षों से जो सरकारे चल रही वह संविधान विरूद्ध कार्य कर रही है। तमाम सरकारी विभागों का निजीकरण कर सर्वसमाज के हक का मारा जा रहा है।
प्रभारी रमेश यादव ने बाबा साहब की नीतियों में आशा व विश्वास रखते हुए बताया कि बाबा साहब के सपनों को मा. बहन कुमारी मायावती जी ही पूरा कर सकती है।
पूर्व विधायक उमेश पाण्डेय ने बताया कि बाबा साहब ने सदियों से सताये गये सर्वसमाज की तरक्की के लिए काम किया। आज हम संकल्प लेकर जाये कि हम बाबा साहब का कारवां और सपना पूरा करेंगे और जबतक बहन जी को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री नहीं बना लेंगे चैन से नहीं बैठेंगे।
पूर्व राज्यसभा सांसद सालिम अंसारी ने बताया कि विश्व के सबसे बड़े लोकतन्त्र के शिल्पी बाबा साहब को संविधान लिखने में बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ा है। जिसे तोड़ने का काम भाजपा सरकार करने जा रही है, जिसे बसपा के लोग नाकाम करने का काम करेंगे।
पूर्व मंत्री श्रीमती विद्या चौधरी ने कहाकि आजादी के पहले हम लोगों की दुर्दशा थी किन्तु बाबा साहब ने संविधान देकर सर्वसमाज के साथ दलित पिछड़ों, अल्पसंख्यकों को सम्मान से जीवन यापन का अवसर प्रदान किया।
इस मौके पर हरिश्चन्द्र गौतम, डा अजय राजभर, रामजी सरोज, विजय कुमार, भोला पासवान, अरविन्द कुमार जिलाध्यक्ष, सुधीर कुमार मिन्टू, रामपाल ठाकुर, रामजन्म मौर्य, चन्द्रभूषण, अनिल राय, ओंकार शास्त्री, अशोक राजभर, मिटठू राजभर, श्रीराम यादव, अनिल, दिनेश कुमार राव, दुर्गा यादव, चेतई राम, करूणकांत मौर्य, अश्वनी कुमार, राजीव कुमार राजू, नागेन्द्र यादव, संतोष राम, राजकुमार, लालचन्द्र बाबू, उस्मान गनी, अब्दुल्लाह, मुस्तनीर फराही, अरूण पाठक, विनोद श्रीवास्तव, विजय कुमार देशप्रेमी आदि सहित सभी विधानसभा अध्यक्ष के साथ साथ मंडल के समस्त कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment