.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

,

,
.

जिला मुख्यालय व तहसील स्तर पर आयोजित होगा 'आजमगढ़ महोत्सव' -जिलाधिकारी

आजमगढ़ महोत्व 16,17 व 18 दिसम्बर 2019 को कराया जाना है - नागेन्द्र प्रसाद सिंह, डीएम 

अधिकारियों/स्वंय सेवी/महिला संगठनों, प्रबुद्ध एवं गणमान्य व्यक्तियों के साथ प्रारम्भिक बैठक सम्पन्न हुई 

आजमगढ़ 02 नवम्बर -- जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद में आजमगढ़ महोत्सव का आयोजन जिला मुख्यालय तथा तहसील स्तर कराये जाने हेतु प्रारम्भिक बैठक अधिकारियों/स्वंय सेवी/महिला संगठनों, जनपद के प्रबुद्ध एवं गणमान्य व्यक्तियों के साथ बैठक सम्पन्न हुई।
इस अवसर जिलाधिकारी ने बताया कि आजमगढ़ महोत्व 16,17 व 18 दिसम्बर 2019 को कराया जाना है। उन्होने बताया कि सबसे पहले तहसील स्तर पर कराया जायेगा। प्रत्येक तसहील में अलग-अलग परम्परा/विधाओं से सम्बन्धित कार्यक्रम किया जायेगा। प्रत्येक तहसीलों पर होने वाले कार्यक्रम का दिन अलग-अलग होगा। 2 से 4 विकास खण्डों का कलस्टर बना कर प्रत्येक कलस्टरों के 8 तहसीलों से जोड़ा जायेगा।
जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने-अपने सम्बन्धित तहसीलों में क्रिएटिव लोगों की कमेटी बनाना सुनिश्चित करे। इसी साथ ही कराये जाने वाले कार्यक्रमों की कार्ययोजना बनाये।
जिलाधिकारी ने बीएसए/डीआईओएस को निर्देशित करते हुए कहा कि विद्यालयों के अच्छे प्रधानाचार्य तथा अध्यापक का चयन करने हुए तहसीलवार सूची बना कर उपलब्ध करायंे।
उन्होने बताया कि जिला मुख्यालय पर आजमगढ़ महोत्सव आईटीआई मैदान में आयोजित किया जायेगा। जिमसें एमएसईबी का शिल्प मेला, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की महिलाओं का स्टाल, एक जनपद एक उत्पाद का स्टाल तथा सरकारी विभागों द्वारा संचालित योजनाओं का स्टाल लगाया जायेगा। आजमगढ़ महोत्सव में खेल, विधा, कवि सम्मेलन, मुशायरा, सांस्कृतिक प्रतियोगिता, चित्रकला, युवा संवाद कार्यक्रम, वाद-विवाद प्रतियोगिता आदि अन्य कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा।
जिलाधिकारी द्वारा आजमगढ़ महोत्सव को कराने हेतु स्वंय सेवी/महिला संगठनों/कला संगठनों तथा अधिकरियांे को जिम्मेदारी दी गयी। इसी के साथ ही सभी से सुझाव भी मांग गया। सभी सम्बन्धित अपने अपने सुझाव व कार्य योजना बना कर अपर जिलाधिकारी प्रशासन को जल्द से जल्द उपलब्ध करा दें।
आमजमगढ़ महोत्सव के इन्फ्रास्ट्रकचर की जिम्मेदारी मुख्य विकास अधिकारी तथा अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) को जिम्मेदारी दी गयी। इस कार्यक्रम के लिए अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को नोडल अधिकारी बनाया गया है। जिलाधिकारी द्वारा प्रचार्य डायट को बच्चों को पुरस्कार वितरण की कार्य योजना बना कर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। इस कार्यक्रम को सफलता पूर्वक संचालित करने हेतु पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह द्वारा सुरक्षा प्लान, एक्जीट प्लान, ट्रैफिक प्लान तैयार कराया जायेगा।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह, सीडीओ आनन्द कुमार शुक्ला, अपर जिलाधिकारी प्रशासन, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व गुरू प्रसाद, समस्त उप जिलाधिकारी, डीडीओ रवि शंकर राय, डीएसओ देवमणि मिश्रा, डीआईओएस डा0 वीके शर्मा, बीएसए देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, डीपीआरओ श्रीकांत दर्वे, डीसी मनरेगा वीवी सिंह , डीसी एनएलआरएम बीके मोहन, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य निकष सिंह, स्वंय सेवी/महिला संगठनों के प्रतिनिधिगण, प्रबुद्ध नगारिक/गणमान्य व्यक्ति, ज्ञानेन्द्र मिश्रा एलबीसी उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment