.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

समस्याओं,बाढ़,आपदा से राहत हेतु मंडलायुक्त कार्यालय में स्थापित हुआ कन्ट्रोल रूम

मंडलायुक्त कार्यलय  के कण्ट्रोल रूम का नंबर 05462-268916 एवं मोबाईल नम्बर 7355550608 है

सफाई व्यवस्था, प्लास्टिक प्रतिबन्ध, फल अवशिष्ट बैंक आदि हेतु तत्काल लागू हो सहतवार माडल : मण्डलायुक्त

आज़मगढ़ 30 सितम्बर -- मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने मण्डल के अन्तर्गत जनपद आज़मगढ़ एवं बलिया की सभी नगर पालिकाओं एवं नगर पंचायतों में सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ करने तथा प्लास्टिक प्रतिबन्ध को पूर्णतया प्रभावी बनाने हेतु सभी निकायों में तत्काल प्रभाव से सहतवार माडल को लागू किये जाने का निर्देश दिया है। इसके अलावा गोवंश आश्रय स्थलों में पशुओं को पौष्टिक आहार के रूप में फलों के अवशिष्ट को भी नियमित रूप से एकत्रित कर उसे पशुओं के आहार में सम्मिलित करने का निर्देश दिया है। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने सोमवार को अपने कार्यालय के सभागार में जनपद आज़मगढ़ एवं बलिया के अन्तर्गत समस्त नगर पालिकाओं एवं नगर पंचायतों की प्रगति की समीक्षा करते हुए यह भी निर्देश दिया कि निकायों में फागिंग का रोस्टर इस प्रकार बनाया जाय कि 2-3 दिन के अन्तराल पर सभी वार्डों में फागिंग अवश्य हो जाय। उन्होंने बैठक के दौरान निकायवार फागिंग, सफाई, एण्टी लार्वा के छिड़काव, नाला सफाई आदि की समीक्षा के दौरान सभी अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया कि इन सभी कार्यों का जो रोस्टर बनाया गया है उसका पूरा विवरण तत्काल उपलब्ध कराया जाय। मण्डलायुक्त ने कहा कि उपलब्ध कराये गये रोस्टर के अनुसार मण्डल स्तरीय अधिकारियों से प्रतिदिन निकायों का निरीक्षण कराया जायेगा।
मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी द्वारा सफाई व्यवस्था, फागिंग, गोवंश आश्रय स्थलों आदि के सम्बन्ध में निकायवार की गयी समीक्षा के दौरान नगर पंचायत सहतवार (बलिया) के अधिशासी अधिकारी राम बदन यादव द्वारा अवगत कराया गया कि शासन के निर्देशानुसार उनकी निकाय में प्रतिदिन दो पालियों में नियमित सफाई तो होती ही है, परन्तु उनके द्वारा यह भी व्यवस्था की गयी है कि सप्ताह में एक दिन नियमित सफाई के उपरान्त सभी सफाई कर्मचारियों को एक साथ एक ही वार्ड में भी सफाई हेतु लगाया जाता है। श्री यादव ने यह भी बताया कि उस दिन नगर पंचायत के अध्यक्ष, सभासद तथा वह मौके पर स्वयं उपस्थित रहते हैं तथा वार्ड के लोगों से उनकी समस्याओं को भी उस दिन सुनकर सभी की मौजूदगी में उसका समाधान किया जाता है। अधिशासी अधिकारी सहतवार ने यह भी बताया कि उनकी नगर पंचायत के अन्तर्गत फल और फलों का जूस बेचने वालों के पास डस्टबीन रखकर फलों के अवशिष्ट को प्रतिदिन एकत्रित कर उसकी जाॅंच पशु चिकित्साधिकारी से कराकर गोवंश आश्रय स्थलों में उपलब्ध पशुओं को दिया जाता है। उन्होंने यह भी बताया कि उनके इस प्रयोग का सकारात्मक परिणाम भी दिखाई दे रहा है। मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत सहतवार के इस प्रयोग को ‘‘सहतवार माडल’’ का नाम देते हुए इसकी सराहना की तथा उपस्थित सभी अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिया कि सहतवार माडल की तर्ज पर सफाई का पूरा रोस्टर तत्काल तैयार कर उपलब्ध करायें। मण्डलायुक्त ने यह भी निर्देश दिया कि मण्डल के अन्तर्गत सभी निकायों में सहतवार माडल के अनुसार प्रत्येक बुधवार को मण्डल की सभी निकायों में वार्ड चिन्हित करते हुए नगर अध्यक्ष, सभासद एवं वार्ड वासियों की उपस्थिति में उस वार्ड की सफाई कराई जाय। इसके साथ ही उन्होंने आगाह भी किया कि इससे नियमित सफाई पर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए। बैठक में नगरीय क्षेत्रों में खाद्य पदार्थों, फलों आदि की नियमित चेकिंग की अद्यतन स्थिति से अवगत कराने हेतु सहायक आयुक्त खाद्य उपस्थित नहीं थे। इस पर मण्डलायुक्त ने सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए उनका एक दिन का वेतन काटने तथा स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। प्रधानमन्त्री आवास योजना की समीक्षा के दौरान पाया गया कि इस योजना में आवास दिलाने के नाम पर जनपद आज़मगढ़ की दो निकायों में की गयी ठगी के आरोप में कतिपय लोगों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई गयी है। मण्डलायुक्त ने इस स्थिति पर घोर नाराजगी व्यक्त करते हुए पीओ डूडा तथा अधिशासी अधिकारियों को सख्त आगाह किया कि शासन की इस अति महत्वाकांक्षी योजना का लाभ पात्र लाभार्थियों को ही मिलना चाहिए तथा यह भी सुनिश्चित किया जाये कि भविष्य में आवास दिलाने के नाम पर किसी प्रकार की दलाली, अनियमितता आदि की कोई शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। मण्डलायुक्त ने नगरीय निकायों की समस्याओं, बाढ़, आपदा आदि के सम्बन्ध में शिकायतें दर्ज कर उसका सम्यक निस्तारण कराने हेतु तत्काल प्रभाव से अपने कार्यालय में कन्ट्रोल रूम की स्थापना भी कर दी है, जिसका नम्बर 05462-268916 एवं मोबाईल नम्बर 7355550608 है। उन्होंने कन्ट्रोल रूम हेतु एक कर्मचारी जितेन्द्र कुमार की नियमित ड्यूटी लगाते हुए आम जन से कहा कि स्थानीय निकायों, बाढ़, आपदा आदि के सम्बन्ध में कोई भी शिकायत प्रत्येक कार्यदिवस में पूर्वान्ह 10.00 बजे से सायं 5.00 तक दर्ज कराई जा सकती है।
इस अवसर पर अपर आयुक्त (प्रशासन) धर्मेन्द्र सिंह, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) आज़मगढ़ नरेन्द्र सिंह, पीओ डूडा अरविन्द कुमार, ईओ शुभनाथ प्रसाद, राजपति वैस, बब्बन यादव सहित आज़मगढ़ एवं बलिया के अन्य सभी अधिशासी अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment