.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य ने बाल अधिकार की विभिन्न योजनाओं की समीक्षा किया

आयोग सदस्य डॉ शुचिता चतुर्वेदी ने समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित प्राथमिक विद्यालय,कस्तुरबा गाॅधी बालिका विद्यालय का निरीक्षण किया   

आजमगढ़ 21 सितम्बर-- उ0प्र0 राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य डाॅ0 शुचिता चतुर्वेदी की अध्यक्षता में सर्किट हाउस के सभागार में बाल अधिकार के संरक्षण एवं पुनर्वास से संबंधित विभिन्न अधिनियमों के अन्तर्गत संचालित योजनाओं तथा संचारी रोग नियंत्रण, बालिका सुरक्षा एवं स्कूल चलो अभियान के संबंध में समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। सदस्य द्वारा बाल संरक्षण, बेसिक शिक्षा, स्वास्थ्य, श्रम, बाल कल्याण समिति, किशोर न्यास बोर्ड, कौशल विकास मिशन आदि विभागों की गहनता से समीक्षा की गयी। इसी के साथ ही उन्होने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अगली बैठक में उद्यतन प्रगति रिपोर्ट के साथ उपस्थित हों।
सदस्य द्वारा बताया गया कि इस समय पोषण माह चल रहा है, पोषण माह को और अधिक सफल बनाये जाने हेतु संबंधित विभागों से जानकारी प्राप्त की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
सदस्य द्वारा मदरसों में यूनिफार्म, मिड-डे-मिल, आवास और शिक्षकों के वेतन आदि के संबंध में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी से जानकारी प्राप्त की गयी।
सदस्य द्वारा बेसिक शिक्षा अधिकारी से जनपद में संचालित कस्तुरबा गाॅधी विद्यालय के बारे में भी जानकारी प्राप्त की गयी कि इन विद्यालयों में संविदा पर रखे गये अध्यापकों की क्या स्थिति है। उन्होने श्रम विभाग के संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये कि जिन-जिन दुकानों पर बाल श्रमिक जो कार्य कर रहे हैं, उन दुकानों पर नियमानुसार कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
उन्होने कहा कि जो बच्चे गरीब परिवार के हैं और बाल श्रम तथा कूड़ा-करकट बीन रहे हैं, उन बच्चों के माता-पिता को चिन्हित करते हुए उनको कौशल विकास मिशन के अन्तर्गत प्रशिक्षण दिलायें जिससे कि वे प्रशिक्षित होकर कार्य करें तथा अपने बच्चों को बाल श्रम से रोक सकें। आगे उन्होने श्रम विभाग के संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये कि श्रम विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की सूची बनाकर उपलब्ध करायें। इसी के साथ ही उन्होने यह भी कहा कि श्रम विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के अन्तर्गत योजनावार कितने लाभार्थियों को लाभान्वित किया जा रहा है, इसकी भी सूची उपलब्ध करायें।
इसी के साथ ही सदस्य ने सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये कि आपस में समन्वय बनाकर कार्य करें ।
इसी के साथ ही सदस्य द्वारा समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित पल्हनी के प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया गया, निरीक्षण के दौरान, मानक के अनुरूप व्यवस्था न पाये जाने पर संबंधित अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि व्यवस्था को चुस्त दुरूस्त कराना सुनिश्चित करें। इसी क्रम में कस्तुरबा गाॅधी बालिका विद्यालय पल्हनी का भी निरीक्षण किया गया, जिसमें पाया गया कि विद्यालय के वार्डेन द्वारा छात्राओं को बिना कहीं रिकार्ड दर्ज किये बाहर जाने की अनुमति दे दी जाती है, इस प्रकरण को सदस्य द्वारा गम्भीरता से लेते हुए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि नियमानुसार कार्यवाही करना सुनिश्चित करें ।
सदस्य द्वारा प्राथमिक विद्यालय एकरामपुर तथा आंगनवाड़ी केन्द्र का भी निरीक्षण किया गया, जिसमें पाया गया कि प्राथमिक विद्यालय एकरामपुर ठीक ढ़ंग से संचालित किया जा रहा है। एकरामपुर में स्थित आंगनवाड़ी केन्द्र में एक भी बच्चे मौके पर नही पाये गये, सहायिका को पुष्टाहार वितरण के बारे में जानकारी नही थी। जिस पर सदस्य ने आईसीडीएस विभाग के संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये कि संबंधित के खिलाफ नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर बीएसए देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, जिला समाज कल्याण अधिकारी राजेश कुमार यादव, जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव, डिप्टी सीएमओ डाॅ0 एके सिंह सहित संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment