.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: उड़ान में बाधा बने हवाई अड्डे के आसपास के मकानों को हटाने की नोटिस जारी

मंदुरी एयरपोर्ट के पास के भवन मालिकों ने मुआवजा लेने के बाद भी अभी तक नहीं हटाये भवन, 03 दिन का दिया गया समय   

आजमगढ़: केंद्र व प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी रीजनल कनेक्टिविटी योजना 'उड़ान' तहत मंदुरी एयरपोर्ट के विस्तारीकरण का कार्य लगभग पूरा हो चुका है। विस्तार के बाद जिले से नियमित उड़ान शुरू करने की योजना पर शासन द्वारा तेजी से अमल किया जा रहा है। जबकि अभी तक उड़ान में बाधा बने मकान मालिक मुआवजा लेने के बाद भी भवन नहीं हटाए। इसे गंभीरता से लेते हुए मकान मालिकों को नोटिस जारी की गई है। तीन दिन का अल्टीमेटम दिया गया है।
उड़ान क्षेत्र में बाधक चिह्नित मकानों का मुआवजा मार्च में ही मकान मालिकों को दिया जा चुका है लेकिन भवन अभी तक नहीं हटाए गए। एसडीएम सगड़ी राघवेंद्र सिंह ने बताया कि संबंधित मकान मालिकों को नोटिस जारी की गई। इनमें मुख्य रूप से विमलावती पत्नी संतलाल (22 लाख 21 हजार 459 रुपये), सुदामी पत्नी रामनरेश (17 लाख, 83 हजार, 738 रुपये), गीता पत्नी जगमोहन (17 लाख, 83 हजार, 738 रुपये) , भजुराम पुत्र राजदेव (47 लाख 47 हजार 277 रुपये) पूर्व में मुआवजा दिए जा चुके हैं। 31 मई को जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी के आदेश पर ओएलएस रिपोर्ट में चिह्नित अवरोधों को हटाने के लिए शासन ने मार्च में ही निर्मित स्ट्रक्चर का भुगतान कर दिया गया है। उप जिलाधिकारी ने सख्त निर्देश दिया है कि तीन दिन के अंदर अपने-अपने भवन हटाना सुनिश्चित करें, अन्यथा प्रशासन द्वारा पुलिस बल की उपस्थिति में बिल्डिग को हटाया जाएगा। इसमें जो भी खर्च आएगा वह उन मकान मालिकों से भू-राजस्व की भांति वसूली की जाएगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment