.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़; लगभग 600 मस्जिदों व ईदगाहों में ईद की नमाज़ अमन चैन की दुआ पर सम्पन्न हुई

क्या मुसलमान, क्या हिन्दू सभी ने दिल से कहा मुबारक हो ! फिजां में घुली सेवईयों की मिठास 

आजमगढ़ : जनपद भर में ईद का पर्व धूमधाम से मनाया गया।जिले में करीब 600 ईदगाहों व मस्जिदों में ईद की नमाजअदा करने के बाद लोगों ने एक दूसरे से गले मिलकर त्योहार की बधाई दी। इसके बाद एक दुसरे के घर-घर जाकर सेवईयों का लुफ्त उठाया।यह सिलसिला रात तक चलता रहा। इसके पूर्व सुबह शहर के बदरका ईदगाह पर भारी संख्या में मुस्लिम बंधुओं ने नमाज़ अता की। त्यौहार के मौके पर बच्चों में विशेष ख़ुशी दिखी । यहाँ पर डीएम शिवाकांत द्विवेदी, एसपी त्रिवेणी सिंह व तमाम जनप्रतिनिधि हिन्दू मुस्लिम सभी को मुबारकबाद देने के लिए मौजूद रहे। सभी ने त्यौहार को भाई चारे का प्रतीक बताया। मुबारक चांद के साथ ही ईद की खुशियां शुरू हो गई। रहमतों और बरकतों के पाक महीने रमजान ने अलविदा कहते हुए नई रोशनी और नई उमंग से हर आमो-खास को सराबोर कर दिया। आजमगढ़ में बड़ी संख्‍या में मुस्लिम समुदाय के लोगों में ईद-उल-फितर के त्यौहार की जनपद में धूम रही और लोगों ने दूसरे को गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी। बधाइयाँ देने में हिन्दू लोग भी पीछे नहीं रहे , तमाम लोगों ने अपने मित्रों के घर पंहुच ईद के सेवइयों का आनंद लिया , वहीँ सोशल मीडिया भी बधाइयों सन्देश से पटा रहा। सुबह ही लोगों ने मस्जिद दलाल घाट, मस्जिद जमातूर्य रसाद, जामा मस्जिद, ईदगाह बदरका, मस्जिद हरबंशपुर में ईद की नमाज अता की। सभी ने देश की सलामती, अमनो अमान के लिए अल्लाह ताला से दुआएं मांगी। नमाज के बाद सभी लोगों ने एक-दूसरे से गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी और सेवईयों का लुत्फ उठाया। ईद के मुबारक मौके पर लोगों ने कहा कि यह खुशियों का त्यौहार है और इसे हिंदू और मुसलमान सभी लोग मिल जुल कर बनाते हैं। पूरे जिले में ईद उल फ़ित्र का त्यौहार शांतिपूर्वक सम्पन्न हुआ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment