.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : सुरक्षित खाद्य पदार्थों के विक्रय व सेवन के प्रति लोगों को जागरूक करें -डाॅ ए के मिश्रा,सीएमओ


विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस पर सीएमओ ने अधिकारी गण एवं व्यापारियों को दिलाई शपथ 

खाद्य विभाग को पोलिथीन का प्रयोग रुकवाने को भी कहा 

आजमगढ़ : सीएमओ डाॅ ए के मिश्रा ने कहा विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस मनाने का मकसद सिर्फ इतना नही कि हम सब यहाँ बैठ कर गोष्ठी कर लें और शपथ लेकर अपने-अपने कार्यों में व्यस्त हो जाएँ, बल्कि यहाँ उपस्थित सभी अधिकारी गण एवं व्यापारी सुरक्षित खाद्य पदार्थों के विक्रय व सेवन के प्रति लोगों को जागरूक करें और इस बात के लिए आमजन को शिक्षित किया जाए कि सभी लोग यदि अपमिश्रित पदार्थों का सेवन करेंगे तो तमाम खतरनाक बिमारियों से प्रभावित हो सकते हैं ।
वे आज विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस के अवसर पर अपने कार्यालय स्थित सभागार में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि विभाग द्वारा आयोजित संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे , मुख्य चिकित्साधिकारी ने इस बात पर चिंता जताई कि आज भी लोगों में खान-पान को लेकर सिर्फ़ स्वाद ही महत्वपूर्ण लगता है ,जबकि उक्त पदार्थों के बनाने की प्रक्रिया कुछ जगहों पर बेहद खराब है , उन्होंने बाजार में बिकने वाले पालीथीन पर भी खाद्य विभाग के भूमिका का जिक्र किया और कहा की खाद्य विभाग के अधिकारी अपने नियमित भ्रमण में ग्राहकों को दूकानदार द्वारा पालीथीन देने पर रोक लगाने का निर्देश दें साथ ही पालीथीन के प्रयोग से वातावरण पर होने वाले दुष्परिणामों को भी बताएं ।
संगोष्ठी में सीएमओ द्वारा पहले सभी उपस्थित लोगों को विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस पर आम लोगो तक सुरक्षित खाद्य उपलब्ध कराने की शपथ दिलाई गई , फिर विभागीय मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी डी के राय द्वारा आयोजित संगोष्ठी के उद्देश्यों को बताया गया । विभाग के अभिहित अधिकारी डाॅ डी एन यादव द्वारा उपस्थित लोगों का आभार प्रकट करते हुये विगत वर्ष में सुरक्षित खाद्य पदार्थ को आमजन तक पहुँचाने के लिए की गई विभागीय कार्यवाहियों की भी जानकारी दी गई, विशिष्ट अतिथि मंडलीय सहायक खाद्य सुरक्षा आयुक्त द्वारा विधिवत इसके मानकों को बताया गया , उन्होंने बताया की दूषित खाद्य पदार्थों के सेवन से आज दुनियां में प्रतिवर्ष करोड़ों लोगों की असामयिक मौत हो रही है इससे इसकी भयावहता का सहज अंदाज़ा लगाया जा सकता है , एसीएफ फ़ूड ने कहा कि तेज नमक एवं ज्यादा मीठा खाद्य पदार्थ तो खतरनाक होता ही है पर सबसे ज्यादा खतरनाक है उसका दूषित होना ।
संगोष्ठी को जनपद के व्यापार मंडल के अग्रणी प्रतिनिधि जिनमें संत प्रसाद अग्रवाल , पदमालय के दिनेश अग्रवाल सहित प्रयाग मिष्ठान , महावीर मिष्ठान्न , मनीष रैस्टोरेंट सहित कई अन्य प्रतिष्ठित प्रतिष्ठानों के संचालकों ने भी संबोधित किया
बैठक में अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ संजय ,डिप्टी सीएमओ डॉ ए के सिंह औषधि निरीक्षक अरविंद यादव सहित सभी खाद्य सुरक्षा अधिकारी एवं अन्य सम्मानित खाद्य व्यापारी गण उपलब्ध रहे , गोष्ठी का संचालन प्रभारी प्रचार प्रसार मनीष तिवारी ने किया ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment