.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

होमियोपैथी को बड़ा तोहफा, अब 50 की जगह 100 ले सकेंगे मेडिकल कालेज में एडमीशन

आजमगढ़। होमियोपैथिक मेडिकल एसोसिएशन आफ इंडिया जनपद इकाई व जनपद होमियोपैथिक चिकित्सा परिषद की संयुक्त बैठक गुरूवार को खत्री टोला स्थित संगठन कार्यालय में हुई। इसमें होमियोपैथी के विकास व सरकार द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमों पर विस्तार से चर्चा की गयी। साथ ही राजकीय लाल बहादुर शास्त्री होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज प्रयागराज में एकेडमिक सेशन 2019-20 के लिए स्नातक कक्षाओ में विद्यार्थियों के प्रवेश के लिए सीट 50 से बढ़ाकर 100 करने पर खुशी व्यक्त की गयी। इसका श्रेय प्राचार्य डा. आनंद कुमार चतुर्वेदी के अथक प्रयास को दिया गया।होमियोपैथिक मेडिकल एसोसिएशन आफ इंडिया के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य व केंद्रीय होमियोपैथिक परिषद के पूर्व सदस्य डा. भक्तवत्सल ने कहा कि राजकीय लाल बहादुर शास्त्री होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज प्रयागराज में एकेडमिक सेशन 2019-20 के लिए स्नातक कक्षाओ में प्रवेश के लिए सीट को 50 बढ़ाकर 100 कर दिया गया है। जिसका आदेश 28 मई को सेंट्रल काउंसिल आफ होम्योपैथी द्वारा जारी कर दिया गया है। विगत वर्ष में महाविद्यालय में परास्नातक में मटेरिया मेडिका विषय में पीजी की अधिकतम 10 सीटों के लिए प्रवेश हुआ था। उत्तर प्रदेश में राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज में राजकीय लाल बहादुर शास्त्री होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज पहला कॉलेज है जिसमें स्नातक कक्षाओ में 100 छात्रों के प्रवेश की अनुमति प्राप्त हो गई है। इसका श्रेय महाविद्यालय के प्राचार्य डॉक्टर आनंद कुमार चतुर्वेदी को जाता है जिनके अथक प्रयास से यह संभव हुआ है।
उन्होंने कहा कि आगे महाविद्यालय में अन्य विषयों में भी पीजी कोर्स का संचालन करने के लिए प्राचार्य द्वारा प्रयास किया जा रहा है। होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज में आईपीडी का सफल संचालन करते हुए प्रयागराज के आसपास के जिलों से आए हुए रोगियों का सफल इलाज हो रहा है एवं आईपीडी में भर्ती रोगियों को निशुल्क पैथोलॉजी की जांच सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। प्राचार्य डॉ आनंद कुमार चतुर्वेदी सच्चे अर्थों में होम्योपैथिक युगपुरुष हैं। इनकी जितनी भी प्रसंशा की जाय कम है। उन्होंने अपने व्यक्तिगत प्रयास से राजकीय लाल बहादुर शास्त्री होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज प्रयागराज को भारत के टॉप 5 होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज की श्रेणी में लाकर के खड़ा किया है।
आज राजकीय लाल बहादुर शास्त्री होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज उत्तर प्रदेश में पहला होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज है जहां पर सबसे ज्यादा रोगी देखे जाते हैं एवं पठन-पाठन की उच्च व्यवस्था है। आने वाले समय में इस होम्योपैथिक युग के विकास के उच्च शिखर पर हम सभी लोग उनके नेतृत्व में जाना चाहते हैं। उन्होंने सरकार के इस कदम की सरहना करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार होमियोपैथी के विकास के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। जिससे सभी में बेहतर भविष्य की उम्मीद जगी है।
इस मौके पर डा. राजेश तिवारी, डा. प्रमोद गुप्ता, डा. देवेश दूबे, डा. नीरज सिंह, डा. रणधीर सिंह, डा. नेहा दूबे, डा. एसके राय, डा. राजकुमार राय, डा. नवीन दूबे, डा. बी पाण्डेय, डा. एके राय, डा. गिरीश सिंह, डा. प्रभात यादव, डा. ज्योर्तिमय उपाध्याय, डा. राजीव आन्नद, डा. अभिषेक राय, डा. माला पाण्डेय, डा. एससी सैनी, डा. बृजेश सिंह, डा. सीजी मौर्या, डा. पूजा पाण्डेय, डा. नरेन्द्र श्रीवास्तव, डा. दिलीप श्रीवास्तव, डा. एचएन पाठक, डा. अनुराग श्रीवास्तव, डा. मनोज मिश्रा, डा. राजीव पाण्डेय, डा. शादाब अहमद, डा. अनुतोष वत्सल, डा. अखिलेश आदि उपस्थित थे। संचालन डा. प्रमोद गुप्ता ने किया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment