.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

सत्ता के खिलाफ जनादेश देने की परम्परा पर कायम रहा आजमगढ़

जिलेे की दोनों संसदीय सीटों पर भाजपा को करारी शिकस्त मिलना तय 

आजमगढ़। आजमगढ़ सत्ता के खिलाफ जनादेश देने के अपने परम्परा पर कायम रहा। हाल यह रहा कि इस जिलेे की दोनों संसदीय सीटों पर भाजपा को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा। आजमगढ़ संसदीय सीट पर तो पहले ही चक्र से सपा सुप्रीमों ने बढ़त बनाना शुरू किया तो यह बढ़त आखिरी चक्र के मतगणना तक कायम ही रहा।
यह इतिहास रहा है कि इस जिले केे लोग हमेशा ही सत्ता के खिलाफ जनादेश देते रहे हैं। अब तक के संसदीय इतिहास में यही होता रहा है कि आजमगढ़ में जिस दल की जीत होती है, देश में उसकी सरकार नहीं बनती है। यहां की यह परम्परा इस चुनाव में भी कायम रही। मतगणना शुरू होने तक भाजपा के कार्यकर्ता उत्साह से लबरेेज थे। उनको यह भरोसा था कि यहां से भाजपा ऐतिहासिक मतों से विजय हासिल करेगी। मतों की गणना शुरू होने के साथ ही उनके चेहरे कुम्हलाने लगे। स्थितियां ऐसी बनी कि आजमगढ़ से महागठबंधन के प्रत्याशी सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव ने पहले ही चक्र से बढ़त बनाना शुरू किया तो वह आखिरी चक्र तक कायम रहा। 14 वें राउण्ड की गणना होने तक अखिलेश यादव 136473 मतों से बढ़त बना लिये। इतना बड़ा अंतर बनने के बाद भाजपा के कार्यकर्ता पूरी तरह से मायूस हो गये और वह मतगणनास्थल से निकलकर अपने घर जाने लगे। देखते ही देखते बड़ी संख्या में भाजपा के कार्यकर्ता निकल गये। इसी दौरान भाजपा प्रत्याशी दिनेश लाल यादव निरहुआ मतगणनास्थल पर पहुंचा। मुख्य गेट पर ही किसी ने उसे स्थिति से अवगत करा दिया। ऐसे में वह वहीं से वापस लौट गया। अखिलेश यादव की जीत के प्रति पूरी तरह से आश्वस्त होने के बाद सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव सहित अन्य कद्दावर लोग भी मतगणनास्थल से निकलकर पार्टी के केन्दीय चुनाव कार्यालय पर पहुंच गये। अखिलेश यादव के काफी मतों के अन्तर से आगे होने की सूचना से खुश जिले के कोने-कोने के सपाई पार्टी के केन्द्रीय चुनाव कार्यालय पर आ धमके।   रात नौ बजे तक 26 राउण्ड की मतगणना हो चुकी थी। बीस राउण्ड की मतगणना होने तक सपा के अखिलेश यादव को 604158 मत व भाजपा के दिनेश लाल यादव निरहुआ को 350089 मत मिले थे। इस तरह से जीत सुनिश्चित होने के साथ ही अखिलेश यादव 2,54069  मतों के अंतर के साथ बढ़त बनाये हुए थे। इसी तरह से समाचार  लिखे इस जिले की दूसरी लालगंज सुरक्षित संसदीय सीट पर भाजपा प्रत्याशी नीलम सोनकर 353265 को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा। यहां जीत का सेहरा बसपा की संगीता आजाद 514116  के सिर पर  बंधता स्पस्ट हो रहा है। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment