.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: असलहा फैक्ट्री का भंडाफाड़, तीन गिरफ्तार, भारी संख्या में असलहा बरामद

नदी किनारे रात भर बनाते थे असलहे,कामयाब पुलिस टीम को 25 हजार का पुरस्कार घोषित हुआ 

आजमगढ़। सिधारी पुलिस व परिक्षेत्रीय एन्टी एक्टार्शन टीम को सोमवार को बड़ी सफलता मिली। पुलिस ने तमसा नदी के किनारे छापेमारी कर असलहा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया। इस दौरान मौके पर तीन लोग गिरफ्तार किये गए। वहीं 23 निर्मित, 13 अद्धनिर्मित असलहे, बन्दूक, रिवाल्बर बरामद बरामद की। फक्ट्री का खुलासा करने वाली टीम को विभाग द्वारा 25 हजार का पुरस्कार दिया गया है।
प्रभारी निरीक्षक सिधारी अनिल सिहं फोर्स के साथ बैठोली तिराहे पर वाहन चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान एन्टी एक्सटार्शन रेन्ज आजमगढ़ टीम के प्रभारी उपनिरीक्षक अश्वनी पाण्डेय तिराहे पर पहुंचे और बताया कि मुखबिर से सूचना मिली है कि सिंधारी क्षेत्र में दो दिनो से कुछ लोग टेम्पोरोरी असलहा फैक्ट्री डालकर असलहे बना रहे है। जो रात्रि में 7 बजे निर्माण शुरु करते है और 4 बजे सुबह तक बन्द कर देते है। आज कुछ खरीदारो को असलहे देने हेतु बुलाये है।
सूचना के आधार पर देर रात पुलिस ने ग्राम सम्मोपुर में पूर्व माध्यमिक विद्यालय के उत्तर दिशा में भट्टे के पास नदी के किनारे छापा मारा। यहां टीला के पीछे फैक्ट्री डालकर असलहा बनाने का काम कर रहे लोगों को घेर लिया गया। अचानक पड़ी रेड में असलहा बना रहे लोगों को भागने का मौका नहीं मिला। तीन लोग मौक पर ही गिरफ्तार कर लिये गए जबकि दो लोग रात का फायदा उठाकर नदी में कूद कर भागने में सफल हो गए।
पुलिस अधिक्षक ने बताया कि उक्त लोग जगह बदल बदलकर नदी के किनारे असलहे के फैक्ट्री डालकर आर्डर पर असलहे बनाकर उचे दामों में बेचते थे। चुनाव को देखते हुये भारी मात्रा असलहा ंतैयार कर इकठ्ठा किया जा रहा था। उक्त लोग 10 वर्षों से असलहे की फैक्ट्री बैठाकर असलहे बेचने का कार्य करते थे। गिरफ्तार लोगों में बिन्जू यादव पुत्र रुपा यादव निवासी मोजरापुर थाना कोतवाली, जयप्रकाश पुत्र महात्तम सिंह निवासी मुमरखापुर थाना कोतवाली व अश्वनी राम पुत्र राम नरायण निवासी ममरखापुर थाना कोतवाली जनपद आजमगढ़ शामिल है। जबकि राजेन्द्र पुत्र फेकु निवासी हाजीपुर थाना मुबारकपुर व हीरा पुत्र शदाफल निवासी मजरापुर थाना कोतवाली शामिल है।
पुलिस ने मौके से 17 अदद तमन्चा 315 बोर, 01 अदद रिवाल्बर .38 बोर व 02 अदद जिन्दा कारतूस, 01 अदद बन्दूक 12 बोर एक नाली, 04 अदद अद्धी बन्दूक 12 बोर, 10 अदद कारतूस जिन्दा 12 बोर 04 अदद, 315 बोर 04 अदद, .38 बोर 02 अदद, 03 अदद फायरशुदा खोखा कारतूस, 13 अदद अद्धनिर्मित शस्त्र ( 13 नाल 315 बोर, ट्रैगर, बाडी, बट सहित)’1.10 अदद बाडी प्लेट लोहे का पतर, 01 अदद भट्टी ब्लोअर, ज्वाईन्ट करने वाला पीतल का पतर , बरामद शस्त्र बनाने का उपकरण दो अदद मीडियम रेती त्रिकोना, दो अदद छोटी रेती तिकोना,एक अदद गोल रेती, 02 अदद नाल फिटनेश करने की सरिया, सुम्मी (छेनी) चौड़ा गोल लम्बा 11 अदद, 23 अदद काटी 04 इन्च, एक हथौड़ा , एक हथौड़ी, एक अदद पिलास , दो अदद पेचकस , 04 अदद पट्टी नाल सीधा करने का , एक अदद शड़षी , 22 अदद छोटी बड़ी स्प्रींग, 02 अदद रेग मार्क पेपर एक अदद छेद करने वाला उपरकरण , 05-05 किग्रा लोहे का 02 बाट , 01 अदद भट्टी ब्लोवर, 01 डिब्बी में सुहागा, 12 अदद नाल, 01 अदद लकड़ी की पत्ती, 01 किग्रा कोयला जिन्दा व प्रयुक्त कोयला राखी नुमा लगभग 01 किग्रा बरामद किया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment