.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री के विकास प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों की प्रगति की समीक्षा की

पेंडिंग परियोजनाओं को शीघ्रता से पूरा करना सुनिश्चित करें - शिवाकांत द्विवेदी  ,जिलाधिकारी  

आजमगढ़ 06 फरवरी-- जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में  मुख्यमंत्री के विकास प्राथमिकता कार्यक्रम माह जनवरी 2019 की प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने चिकित्सकों की उपलब्धता, दवाओं की उपलब्धता, एम्बूलेंस सेवाओं की स्थिति, संस्थागत प्रसव, टीकाकरण, वेक्टर जनित रोग, अधूरे निर्माण कार्याें की प्रगति (चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण) छात्रवृत्ति वितरण (पूर्वदशम/दशमोत्तर छात्रवृत्ति), मा0 मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, पेंशन योजना, 181 महिला हेल्पलाइन योजन, मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, मनरेगा, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेय जल मिशन (नये हैण्डपम्प का अधिष्ठापन), राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना( राशन कार्डाें में आधार सीडिंग की स्थिति), नई सड़कों का निर्माण, ओडीआर/एनडीआर/राज्य मार्गांे की अनुरक्षण की स्थिति, सेतु का निर्माण, सड़कों का गड्ढ़ामुक्त, नगरीय स्ट्रीट लाइट, अपशिष्ट प्रबंधन, कक्षा 8 तक के छात्र छात्राओं का निःशुल्क यूनिफार्म वितरण, छात्रों का नामांकन, रोस्टर के अनुसार विद्युत आपूर्ति, ग्रामों का उर्जीकरण, मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण योजना, मृदा में जीवांश कार्बन बढ़ाने हेतु वर्मी कम्पोस्ट यूनिट की स्थापना, बीज की उपलब्धता एवं वितरण, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, आईसीडीएस, 50 लाख से अधिक लागत के अन्य निर्माण कार्याें की समीक्षा(सड़कों को छोड़कर), अवैध खनन, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण, खुले में शौच मुक्त ग्रामों की प्रगति, नहरों में टेल तक पानी पहुंचाना इत्यादि योजनाओं की बिन्दुवार विस्तार से समीक्षा की गयी।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी वीके अग्रवाल को निर्देशित करते हुए कहा कि अस्पतालों में दवाओं की उपलब्धता, 102 एम्बूलेंस का संचालन ठीक प्रकार से कराने के निर्देश दिये। उन्होने यह भी कहा कि एनआरसी में भर्ती कुपोषित बच्चों की संख्या 10 से कम नही होनी चाहिए।
इसी के साथ उन्होने पीडब्ल्यूडी के अधिशासी अभियन्ता को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में गड्ढ़े मुक्त किये गये सड़कों की सूची उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही अधिशासी अभियन्ता जल निगम को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद मे लगाये गये समस्त हैण्डपम्पों की सूची उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने जिला गन्ना अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि बकाये गन्ने के पर्ची का भुगतान जल्द से जल्द कराना सुनिश्चित करें। उन्होने समस्त कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि निर्माण से संबंधित समस्त कार्याें को निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष निर्धारित समय मंे जल्द से जल्द पूरा करना सुनिश्चित करें। इस कार्य में क्वालिटि से किसी प्रकार का समझौता नही होना चाहिए तथा कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही/शिथिलता बर्दास्त नही की जायेगी।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने समस्त संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जिनकी परियोजनायें अभी तक पेंडिंग हैं उसको जल्द से जल्द पूरा करना सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डीएस उपाध्याय, पीडी अभिमन्यु सिंह, प्रभारी सीएमओ वीके अग्रवाल, डीप्टी सीएमओ डाॅ0 संजय, डीडीओ रवि शंकर राय, डीसी एनआरएलएम बीके मोहन, डीसी मनरेगा वीवी सिंह, डीडी कृषि डाॅ0 आरके मौर्य, जिला कृषि अधिकारी डाॅ0 उमेश कुमार गुप्ता, जिला उद्यान अधिकारी बालकृष्ण वर्मा, जिला गन्ना अधिकारी साहब लाल यादव, बिजली, पीडब्ल्यूडी, जल निगम के अधिशासी अभियन्ता/अधिकारी, समस्त उप जिलाधिकारी सहित अन्य संबंधित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।  

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment