.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

फूलपुर कोतवाल को धमका कर 20 लाख मांग रहा पशु तस्कर काले खान गिरफ्तार

आजमगढ़ : आखिरकार फूलपुर कोतवाल को फ़ोन पर चेतावनी देने के साथ ही 20 लाख की रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए पशु तस्कर गिरोह के सदस्य इमरान उर्फ़ जावेद उर्फ़ काले खान को प्रतापगढ़ जनपद से धर दबोचा। गौरतलब है की पशु तस्कर सेराज गैंग का सदस्य इमरान उर्फ जावेद उर्फ काले खां ने फूलपुर कोतवाली प्रभारी के सीयूजी नंबर पर फोन कर 20 लाख की रंगदारी की मांग की थी। न देने पर पूर्व कोतवाल रामायण सिंह यादव को जान मारने की धमकी दी थी। पुलिस ने रविवार को जिले से फरार आरोपी काले खां को प्रतापगढ़ जिले में गिरफ्तार कर लिया।  फूलपुर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक नागेश उपाध्याय पिछले सप्ताह शनिवार को छुट्टी पर गए थे। उनकी अनुपस्थिति में कोतवाली के एसआई जितेंद्र कुमार राय प्रभारी निरीक्षक के सीयूजी नंबर की मोबाइल का इस्तेमाल कर रहे थे। शनिवार को सुबह सीयूजी नंबर पर किसी ने फोन किया और पूर्व में तैनात प्रभारी निरीक्षक रामायण सिंह यादव का नाम लेते हुए अपशब्दों का प्रयोग करने लगा। इस दौरान 20 लाख की रंगदारी मांगने और जान से मारने की धमकी देने लगा था। इस पर एसआई जितेंद्र कुमार राय की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ 20 लाख की रंगदारी मांगने और न देने पर जान मारने की धमकी देने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया था। इस पर एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में दो पुलिस टीम सक्रिय हो गई थी। इस दौरान सर्विलास व मुखबिर के जरिए धमकी देने वाले की पहचान काले खां के रूप में हुई। रविवार को मुखबिर से सूचना मिली कि काले खां प्रतापगढ़ जिले के चमरूपुर से कहीं भागने की फिराक में है। इस पर प्रतापगढ़ की पुलिस को जानकारी देते हुए जिले की पुलिस मौके पर धमक पड़ी। पुलिस टीम को देखते ही काले खां जान मारने की नीयत से फायर कर भागना चाहा। इतने में पुलिस ने उसे दौड़ा कर धर दबोचा।
एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि गिरफ्तार काले खां पुत्र इसरार उर्फ मुसु खां फूलपुर कोतवाली के नेवादा गांव का मूल निवासी है। मगर वह प्रतापगढ़ जिले के जेठवारा थाने के चमरूपुर गांव में किराए के मकान में रहता था। वह हाल ही में जहानागंज थाने के बजहा गांव में पुलिस मुठभेड़ में घायल 50 हजार के इनामिया सेराज उर्फ सहनवाज गैंग के सदस्य के रूप में काम करता था। उसने सीयूजी नंबर पर इस्पेक्टर रामायण सिंह यादव को अपशब्दों का प्रयोग करते हुए धमकी दिया था। उसके आपराधिक रिकार्ड को खंगाला जा रहा है। शीघ्र ही उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment